दावोस : पोप के संदेश के साथ शुरू हुई डब्ल्यूईएफ बैठक

दावोस में शक्तिशाली देशों के डब्ल्यूईएफ की सालाना बैठक पोप फ्रांसिस के संदेश के साथ शुरू हुई.

भाषा
Updated: January 23, 2018, 7:24 AM IST
दावोस : पोप के संदेश के साथ शुरू हुई डब्ल्यूईएफ बैठक
दावोस में शक्तिशाली देशों के डब्ल्यूईएफ की सालाना बैठक पोप फ्रांसिस के संदेश के साथ शुरू हुई.
भाषा
Updated: January 23, 2018, 7:24 AM IST
दावोस में अमीर और शक्तिशाली देशों के विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की सालाना बैठक पोप फ्रांसिस के संदेश के साथ  शुरू हुई. सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में पोप फ्रांसिस का संदेश पढ़कर सुनाया गया.

डब्ल्यूईएफ के संस्थापक और कार्यकारी अधिकारी क्लॉस स्क्वाब ने स्की रिजॉर्ट में रिकॉर्ड बर्फबारी दर्ज किए के बीच सम्मेलन के आरंभ होने की घोषणा की.

स्क्वाब ने व्यापार, राजनीति, अकादमिक और मीडिया के सदस्यों के साथ-साथ पहली बार इस बैठक में भाग ले रहे लोगों का स्वागत किया.

पोप ने इसमें भाग लेने वाले सदस्यों से देशों और संस्थाओं के बीच विखंडन से ऊपर उठने तथा तेजी से वैश्वीकृत हो रही दुनिया में और अधिक समावेशी रूख करे बढ़ावा देने के लिए साथ मिलकर काम करने का आह्वान किया.

डब्ल्यूईएफ की 48वीं सालाना बैठक में कारोबार, राजनीति, कला, अकादमिक और सिविल सोसायटी से विश्व के 3,000 से भी अधिक नेता भाग लेंगे. इसमें भारत से 130 से भी अधिक लोग भाग लेंगे.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को  48वें विश्व आर्थिक मंच  के अधिवेशन को संबोधित करेंगे. उम्‍मीद है कि उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मोदी भारत की ताकत का एहसास कराएंगे.

भारत को खुली अर्थव्यवस्था वाले देश के रूप में पेश करते हुए उनकी कोशिश दुनिया के आर्थिक जगत के इस महाकुंभ में ‘मेक इन इंडिया’ के तहत वैश्विक कंपनियों को देश में निवेश के लिए प्रोत्साहित करने की होगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को स्विट्जरलैंड के शहर दावोस के लिए रवाना हुए. उनके साथ एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी दावोस गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार दोपहर करीब 2.45 बजे (भारतीय समयानुसार) फोरम को संबोधित करेंगे. वहीं कार्यक्रम का समापन आखिरी दिन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भाषण के साथ होगा.

दावोस सम्मेलन मे इस साल का थीम 'क्रिएटिंग ए शेयरड फ्यूचर इन ए फ्रैक्चर्ड वर्ल्ड' है.

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर