9/11 की बरसी से ठीक पहले काबुल में अमेरिकी दूतावास पर रॉकेट से हमला

मध्य काबुल में आधी रात के ठीक बाद धुएं का गुबार उठता दिखा
मध्य काबुल में आधी रात के ठीक बाद धुएं का गुबार उठता दिखा

अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान (Taliban) के साथ शांति वार्ता रद्द करने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के ऐलान के बाद यह पहला बड़ा हमला माना जा रहा है.

  • AP
  • Last Updated: September 11, 2019, 9:47 AM IST
  • Share this:
काबुल. अमेरिका में हुए 9/11 के आतंकी हमले की बरसी से कुछ ही मिनट पहले अफगानिस्तान (Afghghanistan) की राजधानी काबुल स्थित अमेरिकी दूतावास (US Embassy) के बाहर एक रॉकेट ब्लास्ट (Rocket Blast) हुआ है. हालांकि अधिकारियों ने करीब घंटे भर बाद दूतावास परिसर को सुरक्षित घोषित करते हुए बताया कि इस विस्फोट में कोई भी हताहत नहीं हुआ है.

मध्य काबुल में आधी रात के ठीक बाद धुएं का गुबार उठता दिखा. इस दौरान सायरन की तेज़ आवाज भी सुनी गई. हालांकि बाद में दूतावास के भीतर लाउडस्पीकर से घोषणा सुनी गई कि 'परिसर में एक रॉकेट फट गया है.'

इस घटना को लेकर अफगान अधिकारियों की तरफ से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. वहीं दूतावास के पास ही स्थित नाटो दफ्तर ने भी किसी के हताहत नहीं होने की बात की है.



अफगानिस्तान में तालिबान के साथ शांति वार्ता रद्द करने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ऐलान के बाद यह पहला बड़ा हमला माना जा रहा है. ट्रंप ने तालिबान के हमले में एक अमेरिकी जवान सहित 12 लोगों की मौत का हवाला देते हुए तालिबान से वार्ता तोड़ दी थी.
गौरतलब है कि 11 सितंबर 2001 को अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन के नेतृत्व में अमेरिका पर भीषण आतकंवादी हमला हुआ था. इसके बाद ही अफगानिस्तान में तालिबान का पतन हुआ था. आज 18 साल बाद भी करीब 14,000 अमेरिकी सैनिक अफगानिस्तान में तैनात हैं.

ये भी पढ़ें-

इराक: कर्बला में भगदड मचने से 31 लोगों की मौत, 100 से ज्यादा घायल
9/11 हमले के गम में बढ़ गई थी अमेरिका में शराब की खपत
UNHRC में भारत ने पाक को लताड़ा, कहा- आतंक न फैला पाने से बौखलाया PAK
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज