इंसान को मारकर उनके मांस का आचार बनाते थे पति-पत्नी, 30 लोग बने शिकार

फोटो सौ. (न्यूज18 लोकमत)
फोटो सौ. (न्यूज18 लोकमत)

रूस में एक कपल ने 30 से भी अधिक लोगों की हत्या (Murder) करके उनके मीट (Meat) का आचार बनाया और रेस्टोरेंट में बेच डाला. इस मामले के बाद रूस के कई शहरों में सनसनी फैल गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 3:31 PM IST
  • Share this:
मास्को. विश्व में ऐसी कई घटनाएं होती है, जो लोगों को हैरान कर देती है. साल 2017 में रूस से भी एक ऐसा ही मामला सामना आया था, जहां एक पति-पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. इस कपल को जब गिरफ्तार किया गया था, तब उन पर एक वेट्रेस के साथ एक अन्य व्यक्ति को मारने और उसके बाद उसके मांस (Meat) को खाने का आरोप लगा था. वहीं बाद में जब इन दोनों ने अपने राज खोले तो जिसने भी सुना वो हैरान रह गया. पुलिस ने बाद में खुलासा किया कि इस कपल ने 30 से अधिक लोगों को मारा (Murder) था और उसके बाद उनके मांस से अचार बनाकर उसे लोकल रेस्टोरेंट में बेचा था. इस मामले के बाद रूस के कई शहरों में सनसनी फैल गई थी.

दरअसल, रूस के क्रासनोदर शहर में पुलिस को गश्त के दौरान एक मोबाइल फोन मिला था. पुलिस ने जब फोन चेक किया तो उन्होंने देखा कि उसमें उन्होंने एक फोटो देखी जिसमें एक आदमी मानव शरीर के साथ सेल्फी ले रहा था. इसके बाद पुलिस ने इस व्यक्ति की तलाश शुरू की और बाद में वो इस कपल तक पहुंचने में सफल हुई. पुलिस ने जब इस कपल के घर की तलाशी ली तो उसके होश उड़ गए थे.

इस कपल के घर से पुलिस ने आठ लोगों के शरीर के अंग बरामद किए इतना ही पुलिस को इनके घर में एक तहखाना भी मिला था, जिसमें से पुलिस ने 19 लोगों की खाल बरामद की थी. पुलिस को इनके घर से एक अचार का जार भी बरामद हुआ था. बाद में खुलासा हुआ कि वो इंसानी मांस का बना हुआ अचार था. उबले हुए मांस के साथ कई डिब्बे उनकी रसोई में पाए गए थे. इस दौरान पुलिस को उनके घर से कई मोबाइल फोन बरामद हुए थे. इतना ही नहीं पुलिस को एक मोबाइल फोन से एक वीडियो भी मिला था, जिसमें इस कपल ने बताया था कि इंसान का मांस कैसे पकाया जाता है.



उस दौरान कई मीडिया रिपोर्ट में इस बात का दावा किया था कि इस कपल ने अपना आखिरी शिकार एक वेट्रेस को बनाया था, जिसे उन्होंने एक डेटिंग ऐप के जरिए उसे बुलाया था. कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि वेट्रेस की उम्र 35 साल की थी और उसका नाम एलेना वशुर्शेवा था. वेट्रेस वशुर्शेवा 35 साल के दिमित्री बाकेशेव को लुभाने की कोशिश करती थी और दिमित्री की 42 साल की पत्नी नतालिया को यह बिल्कुल भी पंसद नहीं थी और इस वजह से उन्होंने इसकी हत्या कर दी थी.
ये भी पढ़ें: एडल्ट फिल्मों की कलेक्शन डिलीट करना एक पिता को पड़ा भारी, बेटे ने मांगा 60 लाख का हर्जाना

जब इन लोगों को पुलिस ने पकड़ा था तो पुलिस का कोई अधिकारी उस दौरान मीडिया से बात नहीं करता था, क्योंकि सबको उनकी नौकरी जाने का डर था. बताया जाता है कि पुलिस पूछताछ के दौरान इस कपल ने कबूल किया था कि उन्होंने सबसे पहला शिकार साल 1999 में बनाया था और उसके बाद से वो ऐसा करने लगे थे. पुलिस पूछताछ के दौरान इस कपल के करीब 30 लोगों की तस्वीरों को देखने के बाद दावा किया कि उन्होंने उन सब को मारकर खा लिया था.

ये भी पढ़ें: पुलिस से बचने के लिए 22वीं मंजिल से लटक गया चोर, Video में देखें फिर हुआ क्या

दावा किया गया था कि नतालिया ने एक अनाथालय से दिमित्री बाकेशेव को गोद लिया था और जब वो 18 साल का हो गया था तब उसने उससे शादी कर ली थी. कहा गया था कि दिमित्री डेटिंग ऐप के जरिए महिलाओं को फंसाता था और फिर जो लड़किया आती थी, वो उन्हें मार कर खा जाते थे. नतालिया पेशे से नर्स थी. दोनों मिल्रिटी अकेडमी के क्‍वार्टर हॉस्‍टल में रहते थे. इस मामले के खुलासे के बाद सामने आया कि इन दोनों ने कई मिलिट्री के स्टूडेंट और ट्रेनी पायलटों को यह मांस खिलाया था. बाद में इन दोनों पति पत्नी को सजा मिली थी. इस मामले में दिमित्री को 12 साल की सजा मिली थी जबकि नतालिया को 11साल की सजा मिली. इस साल की शुरूआत में ही दिमित्री की मौत हो गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज