रूस ने अंतरिक्ष में हथियार परीक्षण के अमेरिका और ब्रिटेन के आरोपों को खारिज किया

रूस ने अंतरिक्ष में हथियार परीक्षण के अमेरिका और ब्रिटेन के आरोपों को खारिज किया
रूस ने कहा कि15 जुलाई के परीक्षण से अंतरिक्ष में किसी तरह का खतरा पैदा नहीं हुआ है. (File Photo)

रूस ने अमेरिका और ब्रिटेन (America And Britain) के उन दावों को खारिज किया है कि उसने अंतरिक्ष (Space) में उपग्रह रोधी हथियार का परीक्षण (Russian Satellite Test) किया.

  • Share this:
मास्को. रूस ने अमेरिका और ब्रिटेन (America And Britain) के उन दावों को खारिज किया है कि उसने अंतरिक्ष (Space) में उपग्रह रोधी हथियार का परीक्षण (Russian Satellite Test) किया. इसके साथ ही रूस ने कहा कि ये आरोप साबित करते हैं कि अमेरिका खुद अंतरिक्ष में हथियार तैनात करने का इरादा रखता है. अमेरिका और ब्रिटेन के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को दावा किया था कि 15 जुलाई को उपग्रह रोधी हथियार के परीक्षण से संकेत मिलता है कि रूस ऐसी प्रौद्योगिकी विकसित करने का प्रयास कर रहा है जो अंतरिक्ष में अमेरिका और उसके सहयोगी राष्ट्रों की संपत्ति के लिए खतरा पैदा कर सकता है.

परीक्षण से अंतरिक्ष में नहीं हुआ किसी तरह का खतरा पैदा: रूस

रूस के विदेश मंत्रालय ने आरोपों को खारिज करते हुए एक बयान में कहा कि 15 जुलाई के परीक्षण से अंतरिक्ष में किसी तरह का खतरा पैदा नहीं हुआ है और यह अंतरराष्ट्रीय कानूनों का पालन करते हुए किया गया. बयान में कहा गया कि रूस की अंतरिक्ष गतिविधियों और शांतिपूर्ण अभियानों को लेकर दुष्प्रचार किया जा रहा है.



ये भी पढ़ें: 14 साल की लड़की ने अपने मां-पिता के तालिबानी हत्यारों को एक-47 से भूना
बच्चों के रेपिस्ट को पकड़ने के लिए 13वीं मंजिल से कूद गया पुलिसवाला, मिला इनाम

नेपाल और चीन में बाढ़ का कहर: नेपाल में आठ की मौत, चीन में 30 लाख लोग प्रभावित

इटली के मोटरेटोन गांव में आठ साल बाद हुआ बच्चा, आबादी बढ़कर 29 हो गई

अमेरिका और ब्रिटेन के आरोपों के बारे में टिप्पणी के लिए पूछे जाने पर राष्ट्रपति कार्यालय के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा कि रूस हमेशा से अंतरिक्ष के विसैन्यीकरण और किसी भी प्रकार के हथियार की तैनाती नहीं करने के पक्ष में रहा है.

रूस के राष्ट्रपति समेत अरबपतियों ने लगवाया टीका

वहीं इससे इतर कोरोना वायरस से जंग में रूस आगे चल रहा है.कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में लगी वैज्ञानिकों की सैकड़ों टीमों में से कुछ टीमें आगे चल रही हैं, इनमें रूस के वैज्ञानिकों का एक दल भी है. रूस ने दावा किया है कि उसने कोरोना वायरस की वैक्‍सीन का इंसानों पर ट्रायल पूरा कर लिया है. हालांकि अब एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि रूसी राष्ट्रपति पुतिन, बड़ी राजनीतिक हस्तियों और देश के अरबपतियों ने अप्रैल महीने में ही कोरोना का टीका लगवा लिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading