होम /न्यूज /दुनिया /रूसी कॉस्मोनॉट ने 20 साल में पहली बार US से भरी उड़ान, अमेरिकी-जापानी एस्ट्रोनॉट को भी ISS पर ले गया Space-X

रूसी कॉस्मोनॉट ने 20 साल में पहली बार US से भरी उड़ान, अमेरिकी-जापानी एस्ट्रोनॉट को भी ISS पर ले गया Space-X

जापानी अंतरिक्ष यात्री कोइची वकाता के साथ अमेरिका नौसेना की कर्नल निकोल मान, कैप्टन जोश कसाडा और रूस की एकमात्र महिला अंतरिक्ष यात्री अन्ना किकिना ISS के लिए रवाना हुए. (फोटो-Twitter@SpaceX)

जापानी अंतरिक्ष यात्री कोइची वकाता के साथ अमेरिका नौसेना की कर्नल निकोल मान, कैप्टन जोश कसाडा और रूस की एकमात्र महिला अंतरिक्ष यात्री अन्ना किकिना ISS के लिए रवाना हुए. (फोटो-Twitter@SpaceX)

अमेरिका नौसेना की कर्नल निकोल मान, कैप्टन जोश कसाडा और रूस की एकमात्र महिला अंतरिक्ष यात्री अन्ना किकिना स्पेस एक्स विम ...अधिक पढ़ें

  • AP
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

20 साल में पहली बार किसी रूसी अंतरिक्ष यात्री ने अमेरिका से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए उड़ान भरी.
उनके साथ जापान की एक और नासा के दो अंतरिक्ष यात्रियों ने स्पेस एक्स अंतरिक्ष यान के जरिये ISS के लिए रवाना हुए.
अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री ने दो हफ्ते पहले रूसी सोयुज रॉकेट से उड़ान भरी थी, उसी के बदले अब रूसी महिला को ISS ले जाया गया.

केप कनेवरल. बीस साल में पहली बार बुधवार को किसी रूसी अंतरिक्ष यात्री ने अमेरिका से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए उड़ान भरी. यूक्रेन संकट को लेकर दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों के बावजूद रूसी अंतरिक्ष यात्री नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) और जापान के अंतरिक्ष यात्रियों के साथ अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (ISS) के लिए रवाना हुआ.

इससे पहले अमेरिका के फ्लोरिडा प्रांत में ‘इयान’ तूफान के कारण उनकी स्पेस-एक्स कंपनी के रॉकेट की उड़ान टाल दी गई थी.वहीं इस अंतरिक्ष यात्रा पर जा रही जापान की अंतरिक्ष एजेंसी के अंतरिक्ष यात्री कोइची वकाता ने कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि इस प्रक्षेपण के जरिए हम फ्लोरिडा के आसमान को सभी के लिए थोड़ा सा रोशन करेंगे.’

कोइची वकाता के साथ अमेरिका नौसेना की कर्नल निकोल मान, कैप्टन जोश कसाडा और रूस की एकमात्र महिला अंतरिक्ष यात्री अन्ना किकिना अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए रवाना हुए. इनका यह मिशन पांच महीने तक चलेगा. सभी अंतरिक्ष यात्री गुरुवार को स्पेस स्टेशन पर पहुंचेंगे.

गौरतलब है कि अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री फ्रैंक रूबियो ने दो हफ्ते पहले कजाख्स्तान से सोयुज रॉकेट के जरिये अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी थी, उनके बदले अन्ना किकिना ने अमेरिका से अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी है.

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें