इनर वियर में कोरोना का इलाज करने वाली नर्स को अस्पताल ने वापस रखा, मिला ये तोहफा

इनर वियर में कोरोना का इलाज करने वाली नर्स को अस्पताल ने वापस रखा, मिला ये तोहफा
इनरवियर पहन इलाज कर रही राशियन नर्स को वापस मिली नौकरी

हॉस्पिटल में PPE सूट के नीचे सिर्फ इनर वियर (Inner wear) पहन कर कोरोना पीड़ितों (Coronavirus) के इलाज में जुटी नर्स नादिया जुकोवा (Nadia Zhukova) को अस्पताल ने वापस रख लिया है. 23 वर्षीय नादिया को अस्पताल ने 'अनुचित ड्रेस कोड' के आरोप में नौकरी से सस्पेंड कर दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 22, 2020, 11:48 AM IST
  • Share this:
मॉस्को. रूस (Russia) के एक हॉस्पिटल में PPE सूट के नीचे सिर्फ इनर वियर (Inner wear) पहन कर कोरोना पीड़ितों (Coronavirus) के इलाज में जुटी नर्स नादिया जुकोवा (Nadia Zhukova) को अस्पताल ने वापस रख लिया है. 23 वर्षीय नादिया को अस्पताल ने 'अनुचित ड्रेस कोड' के आरोप में नौकरी से सस्पेंड कर दिया था. नादिया ने बताया है कि उन्हें न सिर्फ नौकरी वापस मिल गई है बल्कि एक बड़े स्पोर्ट्सवियर ब्रांड के लिए मॉडलिंग करने का भी कॉन्ट्रेक्ट मिल गया है.

द सन में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक नादिया की फोटो सोशल मीडिया (Social Media) पर काफी वायरल (Viral) हो गई थी और उन्हें रूस की 'टू हॉट नर्स' कहकर भी बुलाया जाने लगा था. इसके बाद अस्पताल ने उन्हें सस्पेंड कर दिया था. हालांकि नादिया के पक्ष में रूस के सभी डॉक्टर और नर्स से संबंधित संस्थाओं ने आवाज़ उठाई थी. दरअसल नादिया ने कहा था कि लगातार PPE सूट पहन कर काम करने के चलते उन्हें काफी गर्मी लग रही थी और वो ज़रुरत से ज्यादा मरीज होने के चलते ब्रेक भी नहीं ले सकती थीं. ऐसे में उन्होंने PPE के नीचे सिर्फ इनर वियर पहन कर काम करना ठीक समझा क्योंकि वो मरीजों को छोड़ना नहीं चाह रहीं थीं. बता दें कि नादिया रूस के तुला शहर के एक अस्पताल में काम करतीं हैं.

अब वापस मिली नौकरी
नादिया ने RT से बातचीत में कहा है कि वो हमेशा से ही लोगों की सेवा करना चाहती थीं और इसलिए उन्होंने नर्स का पेशा चुना था. नादिया ने बताया कि उन्हें वापस काम पर लौटकर काफी अच्छा महसूस हो रहा है. बता दें कि अस्पताल ने एक बयान भी जारी किया है जिसमें नाराज़ लोगों से माफ़ी मांगी गई है. मिली जानकारी के मुताबिक नादिया के पिता भी रूस की ख़ुफ़िया एजेंसी FSB में काम करते हैं. नादिया के मुताबिक भले ही उन्होंने उस दौरान मरीजों की मदद के लिए सिर्फ इनरवियर में काम करना कबूल किया था लेकिन आज भी अगर कोई उनसे इस बारे में सवाल करता है तो उन्हें काफी हिचक होती है.




मॉडलिंग का कॉन्ट्रेक्ट मिला
बता दें कि रूस के मशहूर स्पोर्ट्सवियर ब्रांड ZASPORT ने नादिया को अपने अगले कैंपेन के लिए बतौर मॉडल सेलेक्ट कर लिया है. मिली जानकारी के मुताबिक ये कंपनी भी FSB के एक सीनियर अधिकारी की बेटी चलाती हैं. इस कंपनी की मालिक ने नादिया के समर्थन में एक ऑनलाइन कैंपेन भी चलाया था. नादिया ने बताया कि अब उन्हें एहसास होता है कि कैसे एक फोटो किसी इन्सान की पूरी जिंदगी को बदल सकती है.

उन्होंने कहा कि वो फोटो किसने ली थी और कैसे इंटरनेट पर गई ये आज भी एक राज ही बना हुआ है. नादिया के मुताबिक वे सोकर उठीं और सीधे अस्पताल चली गयी थीं लेकिन जैसे ही वो पहुंची उन्हें सभी लोगों ने घेर लिया और वही तस्वीरें और उससे जुड़ी मीडिया कवरेज और सोशल ट्रेंड दिखाने लगे. बता दें कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बॉडीगार्ड रहे तुला के गवर्नर अलेक्सी ड्यूमिन ने भी नादिया का काफी सपोर्ट किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज