• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • ट्रांसपेरेंट कपड़े पहनकर मरीजों का इलाज करती थी ये नर्स, अब बनीं न्यूज एंकर

ट्रांसपेरेंट कपड़े पहनकर मरीजों का इलाज करती थी ये नर्स, अब बनीं न्यूज एंकर

नर्स नादिया जुकोवा (डेली मेल)

नर्स नादिया जुकोवा (डेली मेल)

नादिया ने बताया था कि लगातार PPE किट पहन कर काम करने के चलते उन्हें काफी गर्मी लग रही थी और जरूरत से ज्यादा मरीज होने के चलते वो ब्रेक भी नहीं लेती थीं, ऐसे में उन्होंने PPE के नीचे सिर्फ इनर वियर पहन कर काम करना ठीक समझा था.

  • Share this:
    मास्को. रूस के एक अस्पताल में ट्रांसपेरेंट कपड़े (Transparent Clothes) पहनकर कोरोना मरीजों (Corona Patients) का इलाज करने वाली नर्स नादिया जुकोवा एक बार फिर से चर्चा में हैं. डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, नादिया को मॉस्को के दक्षिण में स्थित तुला नामक जगह पर एक स्थानीय टीवी चैनल द्वारा एंकर की नौकरी दी गई है. फिलहाल नादिया यहां बतौर वेदर न्यूज एंकर की भूमिका निभाएंगी. साथ ही वह नर्स के रूप में भी अपना काम जारी रखेंगी. बताया गया है कि वे मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली एंकर के रूप में काफी फिट होंगी. इससे पहले नादिया जुकोवा को एक रूसी स्पोर्ट्सवियर ब्रांड की तरफ से मॉडल के रूप में भूमिका की पेशकश की गई थी, लेकिन उन्होंने उस ऑफर को ठुकरा दिया था. क्योंकि उनका मानना था कि वे सिर्फ मेडिकल के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहती हैं.

    नादिया ने कहा कि टीवी एंकर बनना उनके लिए बहुत बड़ी बात है. इस मौके के लिए उन्होंने चैनल का आभार व्यक्त किया और कहा कि इस मौके का वे भरपूर लाभ उठाएंगी. बता दें, नादिया जुकोवा पहली बार तब चर्चा में आई थीं जब रूस के एक अस्पताल में पीपीई किट के नीचे पहने गए अपने कपड़ों के कारण वे आलोचना का शिकार बनी थीं. इतना ही नहीं 23 वर्षीय नादिया को अस्पताल ने अनुचित ड्रेस कोड के आरोप में नौकरी से निकाल दिया था. अस्पताल से नादिया की तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थीं, उन्हें रूस की हॉट नर्स भी कहा जाने लगा था. काफी लोगों ने उनकी आलोचना भी की थी, साथ ही अस्पताल को भी आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा था.

    news18
    ट्रांसपेरेंट कपड़ों में मरीजों का इलाज करती नादिया. (डेली मेल)


    नादिया को नहीं पता था तस्वीरों के बारे में
    नादिया की ये तस्वीरें कब और कैसे बाहर आ गईं उन्हें खुद नहीं पता चल पाया. उन्होंने बताया था कि वे जब अस्पताल पहुंचीं तो वहां उन्हें लोग तस्वीरें और उससे जुड़ी मीडिया कवरेज दिखाने लगे. इसके बाद उन्हें इस बारे में पता चला. हालांकि बाद में नादिया ने बताया था कि उन्हें वहीं नौकरी वापस मिल गई है. क्योंकि नादिया के समर्थन में रूस के कई डॉक्टर और स्टाफ ने आवाज उठाई, जिसके बाद अस्पताल प्रबंधन को अपने फैसले पर विचार करना पड़ा था.



    ये भी पढ़ें: घर में नहीं था कोई भी, दरवाजा तोड़ घुस आया भालू, Video में देखें फिर क्या हुआ

    इसलिए पहनी थी ट्रांसपेरेंट ड्रेस
    नादिया ने बताया था कि लगातार PPE किट पहन कर काम करने के चलते उन्हें काफी गर्मी लग रही थी और जरूरत से ज्यादा मरीज होने के चलते वो ब्रेक भी नहीं लेती थीं, ऐसे में उन्होंने PPE के नीचे सिर्फ इनर वियर पहन कर काम करना ठीक समझा था. रिपोर्ट के मुताबिक नादिया ने एक इंटरव्यू में बताया कि वो हमेशा से ही लोगों की सेवा करना चाहती थीं और इसलिए उन्होंने नर्स का पेशा चुना था. नौकरी वापस मिलने के बाद नादिया ने बताया था कि उन्हें वापस काम पर लौटकर काफी अच्छा महसूस हो रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज