रूसी फाइटर जेट को देखकर घबराए इजराइली पैसेंजर प्लेन के यात्री, आ गया था बेहद करीब

फोटो सौ. (न्यूज18 इंग्लिश)
फोटो सौ. (न्यूज18 इंग्लिश)

रविवार को रूस (Russia) का सुखोई एसयू-27 लड़ाकू विमान इजराइली पैसेंजर प्लेन (Israel Passenger Plane) के बेहद करीब पहुंच गया. जिसके बाद विमान में बैठे यात्री घबरा गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 7:41 PM IST
  • Share this:
तेल अवीव. ग्रीस (Greece) से तेल अवीव जा रहे इजराइल के एक यात्री विमान के बेहद पास एक रूसी फाइटर जेट (Russian Fighter Jet) पहुंच गया. विमान में बैठे यात्री इतनी नजदीक किसी दूसरे देश के फाइटर जेट को देखकर घबरा गए. जिस समय यह घटना हुई उस समय इजराइली यात्री विमान साइप्रस के एयरस्पेस में था. साइप्रस के एयर ट्रैफिक कंट्रोल ने इतने नजदीक रूसी फाइटर प्लेन को देखकर तत्काल चेतावनी जारी की. जिसके बाद से वह लड़ाकू विमान इजरायल के यात्री विमान से दूर हुआ.

टाइम्स ऑफ इजराइल की रिपोर्ट के अनुसार, यह घटना रविवार दोपहर की है. उस समय इजराइली यात्री विमान एयरबस A320 ग्रीस के द्वीप रोड्स से तेल अवीव के लिए जा रहा था. तभी खतरनाक ढंग से रूसी सुखोई Su-27 इस यात्री विमान के करीब आ गया. दोनों विमानों ने लगभग एक मिनट तक खतरनाक दूरी पर उड़ान भरी. वैश्विक हवाई उड़ान नियमों के अनुसार, किसी भी यात्री विमान के उड़ान के दौरान उसके एक मील के दायरे में कोई भी लड़ाकू विमान नहीं आ सकता है. ऐसा तभी किया जाता है जब कोई आपात स्थिति हो या फिर यात्री विमान ने इसके लिए सहायता मांगी हो. लेकिन, रूस के इस लड़ाकू विमान ने अचानक इजरायली यात्री विमान के पास आकर खतरा पैदा कर दिया.

ये भी पढ़ें: सावधान! चीन के फ्रोजन फूड पैकेट पर मिला जीवित Coronavirus



रूस और इजरायल दोनों चुप
इस घटना पर न तो इजराइल ने और न हीं रूस के सरकारी अधिकारियों ने कोई टिप्पणी की है. रूस के जंगी जहाज इस समय सीरिया में तैनात हैं. जो आए दिन पड़ोसी देशों की सीमा पार कर दूसरे की एयरस्पेस में घुस जाते हैं. इसी कारण जब भी कोई यात्री विमान इस क्षेत्र से गुजरता है तो उसे इजराइल या तुर्की के फाइटर जेट अपने संरक्षण में लेकर सुरक्षित रूप से बॉर्डर पार कराते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज