होम /न्यूज /दुनिया /

कौन है सलमान रुश्दी को चाकू मारने वाला हादी मतार? ईरान से जुड़ रहा कनेक्शन, 1989 में अयातुल्ला खुमैनी ने दिया था फतवा

कौन है सलमान रुश्दी को चाकू मारने वाला हादी मतार? ईरान से जुड़ रहा कनेक्शन, 1989 में अयातुल्ला खुमैनी ने दिया था फतवा

सलमान रुश्दी पर चाकुओं से जानलेवा हमला करने वाली की पहचान न्यूजर्सी निवासी हादी मतार के रूप में हुई है, जिसे एक ईरानी सिंपैथाइजर बताया जा रहा है. (Photo: Twitter)

सलमान रुश्दी पर चाकुओं से जानलेवा हमला करने वाली की पहचान न्यूजर्सी निवासी हादी मतार के रूप में हुई है, जिसे एक ईरानी सिंपैथाइजर बताया जा रहा है. (Photo: Twitter)

पुलिस ने बताया कि सलमान रुश्दी के भाषण देने के लिए मंच पर पहुंचने के कुछ ही देर बाद हादी मतार ने कम से कम एक बार उनके गले पर और एक बार पेट में चाकू से हमला किया. रिपोर्ट्स की मानें तो 75 वर्षीय लेखक रुश्दी वेंटिलेटर पर हैं. इस हमले के कारण वह अपनी एक आंख गंवा सकते हैं. उनके लीवर में भी गंभीर चोट आई है.

अधिक पढ़ें ...

न्यूयॉर्क: वेस्ट न्यूयॉर्क में एक लेक्चर के दौरान लेखक सलमान रुश्दी पर चाकुओं से जानलेवा हमला करने वाले की पहचान 24 वर्षीय हादी मतार के रूप में हुई है, जो न्यूजर्सी का रहने वाला है. एनबीसी न्यूज के मुताबिक, न्यूयॉर्क पुलिस ने अब तक हमलावर के खिलाफ आरोप नहीं लगाए हैं. उसने एक बयान में कहा है कि हमलावर पर क्या धाराएं लगेंगी, यह सलमान रुश्दी की स्थिति पर निर्भर करेगा. कथित हमलावर को हिरासत में ले लिया गया है. पुलिस ने बताया कि सलमान रुश्दी के भाषण देने के लिए मंच पर पहुंचने के कुछ ही देर बाद हादी मतार ने कम से कम एक बार उनके गले पर और एक बार पेट में चाकू से हमला किया. रिपोर्ट्स की मानें तो 75 वर्षीय लेखक रुश्दी वेंटिलेटर पर हैं. इस हमले के कारण वह अपनी एक आंख गंवा सकते हैं. उनके लीवर में भी गंभीर चोट आई है. आइए जानते हैं सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले हादी मतार के बारे में कुछ अन्य बातें…

हादी मतार के पास सलमान रुश्दी के व्याख्यान में भाग लेने के लिए पास था. उसका अंतिम आधिकारिक पता मैनहट्टन में हडसन नदी के पार फेयरव्यू में पाया गया.
न्यूयॉर्क पुलिस ने कहा है कि हादी मतार ने रुश्दी पर हमला क्यों किया, इसका मकसद अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है. यह भी माना जाता है कि उसने अकेले ही इस वारदात को अंजाम दिया है.
न्यूयॉर्क राज्य पुलिस ने कहा कि एफबीआई जांच में मदद कर रही है, जो बहुत शुरुआती चरण में है. पुलिस को मौके से एक बैग और कुछ इलेक्ट्रॉनिक उपकरण मिले हैं.
कुछ रिपोर्टों में दावा किया गया है कि हादी मतार ईरानी सरकार के प्रति सहानुभूति रखता है, जिसने सलमान रुश्दी की मृत्यु का आह्वान किया था. उसके फेसबुक अकाउंट में जाहिर तौर पर ईरान के नेता अयातुल्ला खुमैनी की तस्वीर थी, जिन्होंने 1989 में 'द सैटेनिक वर्सेज' के प्रकाशन के बाद सलमान रुश्दी के खिलाफ फतवा जारी किया था.
एनबीसी न्यूज के मुताबिक, हादी मतार ने ईरान और उसके रिवोल्यूशनरी गार्ड के समर्थन में, शिया चरमपंथ के समर्थन में अपने सोशल मीडिया अकाउंट से कई पोस्ट किए थे.
एक चश्मदीद ने एनबीसी न्यूज से पुष्टि की कि हादी मतार ने सलमान रुश्दी पर हमले करने के वक्त काले कपड़े पहने थे और काले रंग का मुखौटा पहना हुआ था.
प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि जब हमलावर मंच पर कूदा, तो उन्होंने सोचा कि यह एक स्टंट है क्योंकि सलमान रुश्दी एक विवादास्पद लेखक रहे हैं. लेकिन कुछ सेकंड के बाद, सबकुछ स्पष्ट हो गया. हमला करीब 20 सेकेंड तक चला.
कार्यक्रम में मौजूद एपी रिपोर्टर के अनुसार, सलमान रुश्दी को मंच पर हमलावर द्वारा 10 से 15 बार मुक्का मारा गया या छुरा घोंपा गया.
हेनरी रीज, जो इस आयोजन का संचालन कर रहे थे, उनको भी सिर में मामूली चोट लगी. क्योंकि उन पर भी हमला किया गया. रीज निर्वासन झेलने वाले कलाकारों और लेखकों के लिए एक शरणस्थली के रूप में संयुक्त राज्य अमेरिका के बारे में सलमान रुश्दी के साथ चर्चा करने वाले थे.
इस जानलेवा हमले के बाद, सलमान रुश्दी को अस्पताल ले जाया गया और अब वह वेंटिलेटर पर हैं. उनके एजेंट ने कहा कि उनकी एक आंख भी जा सकती है. छुरा घोंपने के कारण उनका लीवर क्षतिग्रस्त हो गया है और उनकी बांह की नसों में भी चोटें आई हैं.

Tags: International news, New York, Salman Rushdie

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर