Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    पिता की छोटी सी कंपनी को ग्‍लोबल ब्रांड 'सैमसंग' बनाने वाले ली कुन-ही का निधन

    सैमसंग के चेयरमैन थे ली. (File Pic)
    सैमसंग के चेयरमैन थे ली. (File Pic)

    ली कुन ही (Lee kun hee) को मई, 2014 में दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उसके बाद से वह अस्पताल में ही थे. उनकी अनुपस्थिति में उनके पुत्र योंग ने दक्षिण कोरिया की सबसे बड़ी कंपनी सैमसंग का कामकाज देखा.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 25, 2020, 12:51 PM IST
    • Share this:
    सियोल. सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स (Samsung Electronics) के चेयरमैन ली कुन-ही (Lee kun-hee) का निधन हो गया है. वह 78 वर्ष के थे. ली लंबे समय से बीमार थे. उन्हें सैमसंग को एक छोटी कंपनी से उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र की दिग्गज ब्रांड बनाने का श्रेय जाता है. सैमसंग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ली का निधन रविवार को हुआ. उस समय उनके पुत्र ली जेई-योंग और परिवार के अन्य सदस्य उनके पास थे.

    ली को मई, 2014 में दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उसके बाद से वह अस्पताल में ही थे. उनकी अनुपस्थिति में उनके पुत्र योंग ने दक्षिण कोरिया की सबसे बड़ी कंपनी सैमसंग का कामकाज देखा. कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है, 'सैमसंग में हम सभी ली को भूल नहीं पाएंगे. हमने उनके साथ जो यात्रा साझा की है, उसके लिए हम उनके आभारी हैं.' ली ने 1987 में अपने सैमसंग के चेयरमैन पद का कार्यभार संभाला था. यह कंपनी उनके पिता ने मछली और फल के आयात की कंपनी के तौर पर शुरू की थी. इसके बाद ली ने इसे इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स क्षेत्र का एक बड़ा ग्‍लोबल ब्रांड बना लिया.

    ली कुन-ही ने अपने पिता से कंपनी का नियंत्रण अपने हाथ में लिया था. उनके 30 साल के नेतृत्व में सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी एक वैश्विक ब्रांड बनीं. साथ ही उनकी अगुवाई में सैमसंग सबसे बड़ा स्मार्टफोन, टीवी और मेमोरी चिप ब्रांड भी बनी. सैमसंग की मदद से दक्षिण कोरिया एशिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सका. सैमसंग समूह जहाज निर्माण, जीवन बीमा, निर्माण, होटल, मनोरंजन पार्क आदि क्षेत्रों में भी कार्यरत है.

    फोर्ब्स के अनुसार जनवरी, 2017 में ली की संपत्तियां 16 अरब डॉलर थीं. उनका निधन ऐसे समय हुआ है जबकि सैमसंग को मुश्किलों से गुजरना पड़ रहा है. ली के अस्पताल में भर्ती होने के बाद सैमसंग के आकर्षक मोबाइल कारोबार को चीन और अन्य उभरते बाजारों की कंपनियों से कड़ी चुनौती मिलने लगी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज