Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    सऊदी अरब ने पाकिस्तान के नक्शे से हटाए कश्मीर और गिलगिट-बाल्टिस्तान

    पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)
    पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)

    सऊदी अरब (Saudi Arab) ने जी-20 शिखर सम्मेलन के आयोजन की अपनी अध्यक्षता के लिए 20 रियाल का एक बैंकनोट जारी किया है और इस बैंकनोट पर प्रदर्शित विश्व मानचित्र में गिलगिट-बाल्टिस्तान (Gilgit-Baltistan) और कश्मीर को पाकिस्तान के नक्शे में नहीं दिखाया गया है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 28, 2020, 11:30 PM IST
    • Share this:
    रियाद. सऊदी अरब (Saudi Arab) ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (Pakistan Occupied kashmir) और गिलगिट-बाल्टिस्तान (Gilgit-Baltistan) को पाकिस्तान के नक्शे से हटा दिया है. मीडिया रिपोर्टों के अनुसार सऊदी अरब ने जी-20 शिखर सम्मेलन के आयोजन की अपनी अध्यक्षता के लिए 20 रियाल का एक बैंकनोट जारी किया है और इस बैंकनोट पर प्रदर्शित विश्व मानचित्र में गिलगिट-बाल्टिस्तान और कश्मीर को पाकिस्तान के नक्शे में नहीं दिखाया गया है.

    पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के कार्यकर्ता अमजद अयूब मिर्जा ने ट्वीट कर बताया कि सऊदी अरब ने पाक अधिकृत जम्मू कश्मीर और गिलगित-बाल्टिस्तान को पाकिस्तान के नक्शे से हटा दिया. उन्होंने एक तस्वीर भी ट्वीट की जिस पर लिखा था कि सऊदी अरब का भारत को दीवाली का तोहफा- पाकिस्तान के नक्शे से गिलगित-बाल्टिस्तान और कश्मीर हटाए.

    पिछले साल जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाया गया था



    यह धारा 370 को रद्द करने के भारत सरकार के फैसले की पहली वर्षगांठ के बाद आया है, जिसमें जम्मू-कश्मीर राज्य का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त किया गया था. पकिस्तान सऊदी अरब से इसके विरोध में खड़े होने की आस लिए हुए था लेकिन सऊदी अरब ने भारत का साथ दिया. पाकिस्‍तान के व‍िदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कश्‍मीर के मुद्दे पर साथ नहीं देने पर सऊदी अरब और ओआईसी (OIC) को धमकी भी दी थी. इस धमकी का जवाब देते हुए सऊदी अरब ने पाकिस्तान को उधार में तेल देना बंद कर दिया. सऊदी अरब ने पकिस्तान से उधार दिए 1 अरब डॉलर भी मांग लिए जिसे पकिस्तान ने चीन की सहायता से वापिस कर दिए.
    सऊदी अरब का मकसद पकिस्तान का अपमान

    मीडिया रिपोर्टों में कहा जा रहा है कि सऊदी अरब का यह कदम पाकिस्तान को अपमानित करने के प्रयास से कम नहीं माना जाना चाहिए. विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत सरकार ने भी पाकिस्तान सरकार को अपना कड़ा विरोध व्यक्त करते हुए दोहराया है कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख, तथाकथित गिलगित और बाल्टिस्तान भारत के अभिन्न अंग हैं.

    ये भी पढ़ें: कतर एयरपोर्ट पर कचरे में पड़ी मिली नवजात, महिला यात्रियों के कपड़े उतार की गई जांच 

    UK: थूकने पर रग्बी प्लेयर ने टोका तो भारतीय मूल के व्यक्ति ने कर दी हत्या

    पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने पहले पाकिस्तान का एक नया राजनीतिक नक्शा जारी किया था जिसमें गुजरात, जम्मू और कश्मीर के जूनागढ़, सर क्रीक और मनावादर और लद्दाख के एक हिस्से पर दावा किया गया था.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज