लाइव टीवी

PAK की सऊदी अरब से गुहार, कश्‍मीर, CAA और NRC पर बुलाए मुस्लिम देशों की बैठक

भाषा
Updated: December 29, 2019, 6:03 PM IST
PAK की सऊदी अरब से गुहार, कश्‍मीर, CAA और NRC पर बुलाए मुस्लिम देशों की बैठक
सऊदी अरब इस्लामिक सहयोग संगठन के देशों (OIC) की बैठक कश्मीर के मुद्दे पर बुला सकता है (OIC के देशों के खिलाफ प्रदर्शन करते लोग, फाइल फोटो, Reuters)

सऊदी अरब (Saudi Arab) के विदेश मंत्री (Foreign Minister) शहजादा फैसल बिन फरहान ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) से गुरूवार को विदेश कार्यालय में मुलाकात की.

  • Share this:
इस्लामाबाद. सऊदी अरब (Saudi Arab) कश्मीर (Kashmir) में स्थिति पर चर्चा के लिए इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी- OIC) के सदस्य राष्ट्रों के विदेश मंत्रियों की बैठक बुलाने की योजना बना रहा है. पाकिस्तानी मीडिया की खबर में इस बारे में बताया गया है.

‘डॉन’ अखबार ने कूटनीतिक सूत्रों के हवाले से बताया कि सऊदी अरब (Saudi Arab) के विदेश मंत्री शहजादा फैसल बिन फरहान ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) से गुरूवार को विदेश कार्यालय में मुलाकात की.

पाक ने कश्मीर मसले पर OIC की भूमिका के बारे में की चर्चा
शहजादा फैसल हाल में मुस्लिम राष्ट्रों के कुआलालंपुर सम्मेलन में हिस्सा नहीं लेने के बारे में अपने देश के नेतृत्व के रूख से अवगत कराने के लिए एक दिन के दौरे पर पाकिस्तान (Pakistan) आए थे.

पाक विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा, ‘‘दोनों विदेश मंत्रियों ने कश्मीर के मसले के संबंध में ओआईसी (OIC) की भूमिका पर चर्चा की.’’ कुरैशी ने प्रिंस फैसल को भारत द्वारा पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 (Article 370) के अधिकतर प्रावधानों को खत्म किए जाने के बाद कश्मीर में हालात के बारे में बताया.

उठाया CAA, NRC का मुद्दा, भारत पर अल्पसंख्यकों को निशाना बनाने का लगाया आरोप
पाक विदेश कार्यालय ने कहा कि उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) के संबंध में भारत सरकार की कार्रवाई और भारत में लगातार अल्पसंख्यकों को कथित तौर पर निशाना बनाए जाने का मुद्दा उठाया.ओआईसी मुस्लिम बहुल देशों का संगठन है और पाकिस्तान भी इसका हिस्सा है. आम तौर पर यह संगठन पाकिस्तान का समर्थन करता है और कई बार कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ दे चुका है. ओआईसी ने एक संक्षिप्त बयान में पिछले सप्ताह कहा था कि वह भारत में मुस्लिम अल्पसंख्यकों (Muslim Minority) को प्रभावित करने वाले हालिया घटनाक्रमों पर करीबी नजर रखे है.

इमरान खान ने इस दौर भारत पर लगाया LOC में संघर्षविराम का उल्लेख
शहजादा फैसल ने प्रधानमंत्री इमरान खान से भी मुलाकात की. बैठक में विदेश मंत्री कुरैशी, विदेश सचिव सोहेल महमूद, खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हामिद और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे.

खान ने सऊदी के मंत्री से कहा कि भारत द्वारा संघर्षविराम के कथित उल्लंघन से नियंत्रण रेखा (LOC) पर तनाव बढ़ रहा है और यह क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के लिए खतरा है. सऊदी अरब के भारत से बढ़ते कारोबार और मुस्लिम मुद्दों पर कड़ा रूख अख्तियार करने से ओआईसी की नाकामी के कारण पाकिस्तान में कुआलालंपुर सम्मेलन को तगड़ा समर्थन मिला. यह सम्मेलन 19-21 दिसंबर को हुआ.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान: परवेज मुशर्रफ को लाहौर कोर्ट से झटका, सजा के खिलाफ अर्जी वापस लौटाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 29, 2019, 4:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर