Covid-19 को लेकर नया खुलासा, 6 तरह का होता है ये वायरस

Covid-19 को लेकर नया खुलासा, 6 तरह का होता है ये वायरस
प्रतीकात्मक तस्वीर.

एक्सपर्ट्स का कहना है कि इसकी मदद से ऐसे लोगों का इलाज (Treatment) बेहतर हो सकता है जिन्हें ज्यादा खतरा हो और दूसरी वेव आने की स्थिति में इन्फेक्शन का शिकार बनने की संभावना हो.

  • Share this:
लंदन. कोरोना वायरस को लेकर शोधकर्ता आए दिन नए खुलासे करते रहते हैं. इस बार फिर से एक खुलासा हुआ है कि कोरोना (Corona) सिर्फ एक नहीं, बल्कि 6 तरह का होता है. और हर किसी के खास लक्षण होते हैं. लंदन के किंग्स कॉलेज के अनुसार, इसके आधार पर यह तय किया जा सकता है कि किस मरीज (Patient) को वायरस से कितना खतरा है और उसे क्या इलाज दिया जाना चाहिए. इस स्टडी को अभी पियर रिव्यू किया जाना बाकी है. डेली मेल के मुताबिक, एक्सपर्ट्स का कहना है कि इसकी मदद से ऐसे लोगों का इलाज बेहतर हो सकता है जिन्हें ज्यादा खतरा हो और दूसरी वेव आने की स्थिति में इन्फेक्शन का शिकार बनने की संभावना हो. लगातार खांसी आने, बुखार होने या महक न पाने के अलावा सिर दर्द और डायरिया भी इसके लक्षण हैं. रिसर्चर्स ने इस बात पर स्टडी की किया खास लक्षण खास तरीके से होते हैं.

इसके लिए उन्होंने अमेरिका और ब्रिटेन के 1600 मरीजों का मार्च और अप्रैल का डाटा जुड़ाया. इसके बाद पाया गया कि 6 अलग-अलग COVID-19 की वजह से 6 अलग-अलग लक्षण होते हैं. ये धीरे-धीरे गंभीर हो जाते हैं. एक में फीवर नहीं होता, एक में फीवर होता है और एक में फीवर के बाद डायरिया. इसके अलावा थकान, कन्फ्यूजन और पेट-सांस से जुड़ी समस्याएं भी अलग-अलग कारणों की वजह से होते हैं. टीम का कहना है कि ज्यादा उम्र के लोगों, बढ़े हुए वजन और किसी और बीमारी से परेशान हो. टीम ने एक मॉडल तैयार किया है जिसके आधार पर यह समझा जा सकता है कि किस कैटिगरी में मरीज आता है. इससे उनकी उम्र, जेंडर, बॉडी मास इंडेक्स और पहले की बीमारियों के आधार पर यह फैसला किया जा सकता है कि उन्हें अस्पताल में भर्ती करना है या नहीं. इसकी मदद से इस बात की भी वॉर्निंग दी जा सकती है कि किसे इंटेसिव केयर की जरूरत पड़ सकती है.

ये भी पढ़ें: इमरान बोले- पाकिस्तान में कम हुए corona केस , अगले ही दिन आ गए 1,918 मामले



दुनिया में कोरोना के 10 लाख नए केस
उल्लेखनीय है कि, दुनिया में कोरोना वायरस पिछले छह महीने से लगातार अपना कहर बरपा रहा है. पिछले 100 घंटे में ही कोरोना के 10 लाख नए केस सामने आए हैं. शुक्रवार को पूरी दुनिया में कोरोना से संक्रमित हुए मरीजों की संख्या 1 करोड़ 40 लाख तक पहुंच गया. रॉयटर्स की कोरोना तालिका के अनुसार यह पहली बार हुआ है कि 100 घंटों के अंदर 10 लाख लोग कोविड-19 के शिकार हो गए. कोरोना का पहला मामला चीन में जनवरी महीने में मिला था और वहां तीन महीनों के भीतर 10 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो गए. 13 जुलाई को कोरोना के मरीजों की संख्या 1 करोड़ 30 के करीब थी जो चार दिनों में बढ़कर 1 करोड़ 40 लाख तक पहुंच गई. पिछले सात महीनों में कोरोना वायरस से संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या 5,90,000 तक पहुंच चुकी है. भारत में कोरोना से संक्रमित होने वालों की संख्या 10 लाख से ज्यादा हो चुकी है. यहां पिछले हफ्ते हर रोज 30 हजार से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading