लाइव टीवी
Elec-widget

वैज्ञानिकों को मंगल ग्रह पर मिले कीट-पतंगों की मौजूदगी के सबूत

News18Hindi
Updated: November 20, 2019, 6:15 PM IST
वैज्ञानिकों को मंगल ग्रह पर मिले कीट-पतंगों की मौजूदगी के सबूत
ओहियो यूनिवर्सिटी के मुताबिक, डॉ. विलियम रॉमोजर ने मार्स रोवर की भेजी तस्‍वीरों में कीट-पतंगों जैसे स्‍वरूपों के कई उदाहरण खोजे हैं.

ओहियो यूनिवर्सिटी (Ohio University) के कीटविज्ञानी (Entomologist) विलियम रॉमोजर (William Romoser) के हालिया अध्‍ययन में दावा किया गया कि मंगल ग्रह (Mars) पर जीवन के सबूत (Evidence of Life) मिले हैं. डॉ. रॉमोजर कई साल से लाल ग्रह (Red Planet) की ऑनलाइन तस्‍वीरों का अध्‍ययन कर रहे हैं. इस दौरान कई बार कीटों जैसे स्‍वरूपों (Insects Like Forms) के उदाहरण मिले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2019, 6:15 PM IST
  • Share this:
ओहिया. दुनिया भर के वैज्ञानिक (Scientist) पृथ्‍वी (Earth) के अलावा अन्‍य ग्रहों (Planets) पर भी जीवन (Life) की संभावनाएं खोजने में जुटे हैं. इसी क्रम में अमेरिका के एथेंस में ओहियो यूनिवर्सिटी के (Entomologist) विलियम रॉमोजर (William Romoser) ने हालिया अध्‍ययन में मंगल ग्रह पर जीवन के सबूत खोजने का दावा किया है. सेंट लुइस में एंटॉमोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ अमेरिका कांफ्रेंस में ओहियो यूनिवर्सिटी (Ohio University) ने एक अध्‍ययन जारी किया. इसमें कहा गया है, 'जहां वैज्ञानिक यह तय करने की कोशिश कर रहे हैं कि लाल ग्रह (Red Planet) पर जीवन है या नहीं. वहीं, डॉ. रॉमोजर के शोध से पता चलता है कि उन्‍होंने मंगल (Mars) पर जीवन के सबूत हासिल कर लिए हैं. इसमें मार्स रोवर्स (Mars Rovers) को मंगल की तस्‍वीरें भेजने के लिए धन्‍यवाद दिया गया है.

मार्स रोवर की भेजी तस्‍वीरों का कई साल से अध्‍ययन कर रहे हैं डॉ. रॉमोजर
ओहियो यूनिवर्सिटी के मुताबिक, डॉ. रॉमोजर मार्स रोवर की भेजी तस्‍वीरों का कई साल से अध्‍ययन कर रहे हैं. ये तस्‍वीरें ऑनलाइन उपलब्‍ध थीं. उन्‍होंने इन तस्‍वीरों में कीट-पतंगों जैसे स्‍वरूपों के कई उदाहरण खोजे हैं. ये स्‍वरूप मक्खियों (Bees) और रेंगने वाले जीवों (Reptiles) की आकृतियों से मिलते-जुलते हैं. ये सबूत जीवाश्मों (Fossils) और जीवित कीट-पतंगों के रूप में हैं. डॉ. रॉमोजर ने कहा कि मंगल ग्रह पर हमेशा से जीवन था, जो आज भी मौजूद है. मंगल पर पाई गई आकृतियां और सबूत पृथ्‍वी के कीट-पतंगों (Terran Insects) से काफी समान हैं. इनमें कुछ के पंख थे. वे पंख फड़फड़ाते भी हैं. कुछ स्‍ट्क्‍चर्स में ग्‍लाइडिंग और उड़ान भरने की क्षमता के सबूत पाए गए हैं.

मंगल पर मौजूद है जीवन के लिए जरूरी ऊर्जा स्रोत, खाद्य श्रृंखला और पानी

डॉ. रॉमोजर ने कहा कि मंगल ग्रह पर कई पैरों वाली आकृतियां भी मिली हैं. जब मार्स भेजे गए रोवर्स और खासकर क्‍यूरॉसिटी रोवर (Curiosity Rover) ने जैविक गतिविधियों (Organic Activity) के संकेत खोजने शुरू किए तो उनकी भेजी कई तस्‍वीरों में सरीसृप वर्ग के जीवों के स्‍वरूप भी मिले. रोवर की ली गई कुछ तस्‍वीरों में मकड़ी, कॉकरोच जैसे कई आर्थ्रोपॉड (Arthropod) वाले जीवों के संकेत भी मिले हैं. उन्‍होंने कहा कि इन आकृतियों का स्‍वरूप भविष्‍य में मिलने वाली गहन जानकारी के आधार पर बदल भी सकता है. लेकिन, फिलहाल ये सब मंगल पर जीवन की संभावनाएं मौजूद होने के सबूत के तौर पर पर्याप्‍त हैं. इसका मतलब है कि ग्रह पर जीवन के लिए जरूरी ऊर्जा स्रोत, खाद्य श्रृंखला और पानी मौजूद है.

ये भी पढ़ें:

प्रदूषण पर हुई मीटिंग से नदारद हेमा मालिनी बोलीं- मुंबई में पॉल्यूशन नहीं है
Loading...

बिहार के बाद अब पश्चिम बंगाल के मुस्लिम वोट बैंक में सेंध लगा रहे ओवैसी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 6:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...