लाइव टीवी

जल्द से जल्द आ जाएगा कोरोना वायरस का टीका! कोशिश में जुटे साइंटिस्ट्स

News18Hindi
Updated: February 9, 2020, 1:09 PM IST
जल्द से जल्द आ जाएगा कोरोना वायरस का टीका! कोशिश में जुटे साइंटिस्ट्स
37,000 से ज्यादा लोग प्रभावित हैं.

वैज्ञानिकों का कहना है कि , 'उम्मीद है कि इनमें से कोई एक सफल होगा और कोरोना वायरस प्रकोप को रोक पाने में मदद मिलेगी.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 9, 2020, 1:09 PM IST
  • Share this:
सिंगापुर. चीन (China) में महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस (Corona Virus) प्रकोप से निपटने के लिए जल्द से जल्द इसका टीका विकसित करने के लिए चलाए जा रहे कई लाख डॉलर के महत्त्वकांक्षी अभियान के तहत अमेरिका से लेकर ऑस्ट्रेलिया तक के वैज्ञानिक नवीनतम प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल कर रहे हैं.

यह नया वायरस पिछले साल चीन में सामने आने के बाद से बहुत तेजी से फैला है जिसने मुख्य भूभाग में 800 से ज्यादा लोगों की जान ले ली और 37,000 से अधिक को संक्रमित किया है. कोरोना वायरस के मामले कई अन्य देशों में भी सामने आए हैं.

जल्द से जल्द टीका विकसित करने की कोशिश
किसी भी टीके को तैयार करने में अमूमन वर्षों लग जाते हैं और यह जानवरों पर परीक्षण, मनुष्यों पर क्लिनिकल परीक्षण तथा नियामक स्वीकृतियां प्राप्त करने की एक लंबी प्रक्रिया है लेकिन विश्वभर में विशेषज्ञों की कई टीमें कोरोना वायरस के लिए जल्द से जल्द टीका विकसित करने की कोशिश में जुटी हैं. इस कदम को अंतरराष्ट्रीय स्तर के गठबंधन का समर्थन प्राप्त है और ऑस्ट्रेलियाई वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि वे छह महीने के भीतर अपना टीका तैयार कर लेंगे.

ऑस्ट्रेलिया की क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के सीनियर रिसर्चर ने कहा, 'यह अत्यंत दबाव वाली स्थिति है और हमारे ऊपर बहुत जिम्मेदारी है.' उन्होंने कहा कि उन्हें यह जानकर 'कुछ तसल्ली' मिली है कि विश्व की कई टीमें इसी काम में लगी हुई हैं.

कहा, 'उम्मीद है कि इनमें से कोई एक सफल होगा और इस प्रकोप को रोक पाने में मदद मिलेगी.' वायरस के प्रसार को देखते हुए छह महीने की समय सीमा भी बहुत ज्यादा लग रही है. माना जा रहा है कि यह वायरस जंगली जानवर बेचने वाले एक बाजार से फैलना शुरू हुआ है जो चीन में प्रतिदिन करीब 100 लोगों की जान ले रहा है.

यह भी पढ़ें: चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 811 हुई, चपेट में आए 37 हजार लोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 9, 2020, 1:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर