लाइव टीवी
Elec-widget

अफगानिस्तान में तालिबान के हमले में वरिष्ठ सैन्य कमांडर की मौत

भाषा
Updated: December 1, 2019, 3:44 AM IST
अफगानिस्तान में तालिबान के हमले में वरिष्ठ सैन्य कमांडर की मौत
अफगानिस्तान में हुए बम विस्फोट में सैन्य कमांडर सहित दो सुरक्षाकर्मी मारे गए.

हमला संभावित रूप से सैन्य सीमा इकाई के कमांडर जनरल जहीर गुल मुकबिल (General Zaheer Gul Mukabil) को निशाना बनाकर किया गया. वह इस विस्फोट में मारे गए.

  • Share this:
काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) के दक्षिणी हेलमंद प्रांत में सड़क किनारे हुए एक बम विस्फोट में एक वरिष्ठ सीमा कमांडर (senior military commander) सहित दो सुरक्षा कर्मी मारे गए. तालिबान (Taliban) ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. सैन्य कमांडर को लक्ष्य करके यह बम विस्फोट तालिबान द्वारा किया गया है. मृत सैन्य कमांडर तालिबान के खिलाफ लड़ाई में सक्रिय थे.

प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता उमर जवाक ने शनिवार को कहा कि मरजाह जिले में हुए विस्फोट में दो अन्य सुरक्षा अधिकारी और एक स्थानीय टेलीविजन रिपोर्टर घायल हो गया. यह विस्फोट उस समय हुआ जब वहां से एक काफिला गुजर रहा था.

सैन्य सीमा इकाई के कमांडर को निशाना बनाकर हमला
प्रवक्ता ने कहा कि हमला संभावित रूप से सैन्य सीमा इकाई के कमांडर जनरल जहीर गुल मुकबिल को निशाना बनाकर किया गया. वह इस विस्फोट में मारे गए. उन्होंने कहा कि शमशाद टीवी नेटवर्क के रिपोर्टर सरदार मोहम्मद सरवारी घायलों में शामिल हैं और वह मरजाह में एक अभियान के लिए जा रहे सुरक्षा बलों के साथ थे.

जनरल जहीर गुल मुकबिल को निशाना बनाकर किया गया. वह इस विस्फोट में मारे गए.


तालिबान के एक प्रवक्ता कारी यूसुफ अहमदी ने शनिवार को हुए हमले की जिम्मेदारी ली. आतंकवादी समूह का हेलमंद में अधिकतर जिलों में नियंत्रण है. वहीं मेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अफगानिस्तान यात्रा के दौरान शुक्रवार को  तालिबान ने शुक्रवार को कहा था कि अमेरिका के साथ सीधी वार्ता बहाल करने के बारे में कुछ कहना अभी जल्दबाजी होगी.

ट्रंप का अफगानिस्तान दौरा
Loading...

गौरतलब है कि तालिबान का यह बयान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की उस टिप्पणी के एक दिन बाद आया है, जिसमें उन्होंने अमेरिका के सबसे लंबे युद्ध को खत्म करने के लिये वार्ता को वापस पटरी पर लाने का सुझाव दिया था. बता दें कि ट्रंप ने अफगानिस्तान की अचानक की गई यात्रा के दौरान यह टिप्पणी की थी.

हालांकि, तालिबान के आधिकारिक प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने एक व्हाट्सऐप संदेश में समाचार एजेंसी एएफपी से कहा था, 'वार्ता बहाल होने के बारे में कुछ कहना अभी जल्दबाजी होगी. हम बाद में अपनी आधिकारिक प्रतिक्रिया देंगे.' ट्रंप ने गुरुवार को कहा था कि तालिबान एक सौदेबाजी करना चाहता है.

ये भी पढ़ें: 

कमजोर रुपये पर इमरान के नेता ने दिया ऐसा बयान कि अर्थशास्त्री पीटने लगे माथा

ब्राजीली राष्ट्रपति का दावा-लियोनार्डो ने अमेजन में आग लगाने के लिए पैसे दिए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 3:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...