लेबनान से इज़राइली सैन्य ठिकानों पर कई हमले किए गए: इज़राइली सेना

अचानक टकराव बढ़ने से इज़राइल ((Israel)और लेबनानी चरमपंथी समूह हिज़्बुल्लाह (Lebanese extremist group Hezbollah)के बीच भीषण लड़ाई की आशंका बढ़ गई है.

भाषा
Updated: September 2, 2019, 8:56 AM IST
लेबनान से इज़राइली सैन्य ठिकानों पर कई हमले किए गए: इज़राइली सेना
इजराइली सैनिकों की फाइल फोटो REUTERS/Mohamad Torokman
भाषा
Updated: September 2, 2019, 8:56 AM IST
इज़राइल की सेना (Israeli army) ने रविवार को कहा कि लेबनानी चरमपंथियों (Lebanese extremists)ने  इजराइली सेना के ठिकानों पर टैंक-रोधी मिसाइल दागे. इजराइल के सैन्य ठिकानों पर कई सीधे हमले किए गए. इज़राइल ने भी दक्षिणी लेबनान को निशाना बनाकर तोपों से इस गोलाबारी का प्रभावी जवाब दिया.

अचानक टकराव बढ़ने से इज़राइल और लेबनानी चरमपंथी समूह हिज़्बुल्लाह के बीच भीषण लड़ाई की आशंका बढ़ गई है. 2006 में दोनों के बीच एक महीने तक युद्ध चला था. हाल के दिनों में दोनों के बीच टकराव फिर से बढ़ गई है.

लेबनान के प्रधानमंत्री साद हरीरी ने फ्रांस-अमेरिका से की बात

लेबनान के प्रधानमंत्री साद हरीरी (Lebanese Prime Minister Saad Hariri) ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (US Secretary of State Mike Pompeo) के साथ-साथ फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों (French President Emanuel Macron) के सलाहकार से टेलीफोन पर बातचीत की. उन्होंने अमेरिका और फ्रांस के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय समुदाय से इस संकट की स्थिति में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है.

इजराइल ईरान (Iran) को अपना सबसे बड़ा दुश्मन मानता है और ईरान समर्थित हिज़्बुल्लाह से उसे सबसे ज्यादा खतरा है. रविवार को एक भाषण में, इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Israeli Prime Minister Benjamin Netanyahu) ने ईरान पर हिंसा को बढ़ावा देने का आरोप लगाया.

यह भी पढ़ें:   इराक के फतेह गठबंधन ने इजराइली हमलों को युद्ध की घोषणा बताया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 2, 2019, 8:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...