• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • अमेरिका बना रहा इंसानी भाषा बोलने वाले सेक्स रोबोट, कोरोना काल में बढ़ी मांग

अमेरिका बना रहा इंसानी भाषा बोलने वाले सेक्स रोबोट, कोरोना काल में बढ़ी मांग

ये रोबोट्स देखने में भी इंसानों जैसे ही होंगे. screen grab: Youtube

ये रोबोट्स देखने में भी इंसानों जैसे ही होंगे. screen grab: Youtube

अमेरिका (America) जिन सेक्स रोबोट्स (Sex Robots) का निर्माण कर है वे इंसानी आवाज में अपने कस्टमर्स के साथ बातचीत करेंगे. साथ ही इनमें टेम्प्रेचर सेट करने का भी ऑप्शन होगा.

  • Share this:
    वॉशिंगटन. अमेरिका (America) में अब आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस आंखों वाले ऐसे सेक्स रोबोट (Sex Robot) का निर्माण किया जा रहा है जो इंसानी आवाज में बात भी करेंगे. अमेरिका के सैन डिएगो में स्थित एबिस क्रिएशंस फैक्ट्री ऐसे रोबोट्स का निर्माण कर रही है, जिसने दावा किया है कि ये रोबोट्स देखने में भी इंसानों जैसे ही होंगे. कंपनी ने कहा कि इन रोबोट्स में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वाली आंखों को लगाया गया है, जो लोगों को पहचानने के बाद उनसे बातचीत भी करने में सक्षम होंगी. यह फैक्टरी अमेरिका के हार्मनी सेक्स रोबोट बनाने वाली कंपनी रियल डॉल के लिए भी रोबोट बनाती है.

    कंपनी ने यह भी कहा कि यह रोबोट अनजान लोगों और अपने लोगों में फर्क करने में भी सक्षम होगी. अगर कोई अपरिचित व्यक्ति उसके सामने आता है तो रोबोट एक जगह से दूसरी जगह मूव करने में भी सक्षम होगी. इसमें बॉडी टेम्प्रेचर सेट करने के लिए भी विशेष व्यवस्था होगी जिसे मैनुअली तरीके से बदला जा सकता है. कोरोना वायरस महामारी के दौरान चीन में बने सेक्ट ट्वॉय की मांग दुनियाभर में 30 फीसदी से ज्यादा बढ़ गई है. साउथ चाइना मॉर्निग पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, चीन की सेक्स ट्वॉय इंडस्ट्रीज को इन दिनों देश और विदेश से बड़ी संख्या में ऑर्डर मिल रहे हैं. चीन के शैंडोंग स्थित सेक्स ट्वॉय बनाने वाली कंपनी लिबो टेक्नोलॉजी के विदेशी सेल्स मैनेजर वायलेट डू ने कहा कि फरवरी में जब हम लॉकडाउन के बाद काम पर लौटे तो बढ़ती मांग के कारण हमें कर्मचारियों की संख्या बढ़ानी पड़ी.

    ये भी पढ़ें: अमेरिका में दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत को मिला सम्मान, बहन बोली- हमारे लिए गर्व की बात

    फ्रांस, अमेरिका और यूरोप से मिल रहे ऑर्डर
    डू ने कहा कि फ्रांस, अमेरिका और इटली से हमें सबसे अधिक ऑर्डर मिल रहे हैं. हमारी भी कोशिश है कि अपने ग्राहकों तक जल्द से जल्द ऑर्डर पहुंचाया जाए. उन्होंने कहा कि हालांकि इस दौरान चीन में हमारी बिक्री प्रभावित हुई है लेकिन उसका कारण ट्रांसपोर्ट का रुकना है. जल्द ही हमें घरेलू बाजार से भी बड़ी संख्या में ऑर्डर मिलने शुरू हो जाएंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज