COVID-19: सिंगापुर में नए वेरिएंट का बच्चों पर बुरा असर, 12 से 15 उम्र वालों के लिए वैक्सीन को मिली मंजूरी

सांकेतिक तस्वीर.

सांकेतिक तस्वीर.

Singapore Coronavirus News: सिंगापुर के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना-रोधी वैक्सीन की दो खुराकों के बीच समय को बढ़ाकर 6 से 8 सप्ताह करने का निर्णय लिया है.

  • Share this:

सिंगापुर. सिंगापुर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए यहां की सरकार ने अधिक-से अधिक लोगों को टीका लगाने के मकसद से 12 से 15 आयु वर्ग वालों के लिए फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी. सरकार ने यह फैसला ऐसे समय में लिया है, जबकि देश में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट की वजह से बच्चे ज्यादा संक्रमित हो रहे हैं.


स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा, 'वयस्कों पर कोरोना रोधी वैक्सीन फाइजर-बायोएनटेक के असर पर गौर किया जाए, तो इसने लगातार अपनी उच्चतम योग्यता को प्रदर्शित किया है और आंकड़े भी यही दिखाते हैं.' इसके साथ ही मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा के स्तर पर भी वैक्सीन ने लगातार खुद को साबित किया है और वयस्क आबादी में इसके ज्यादा दुष्परिणाम देखने में नहीं आए हैं.


मंत्रालय ने वैक्सीन की दो खुराक के बीच समय अंतराल को बढ़ाने का भी फैसला किया है. मंत्रालय ने कहा, 'सरकार ने कोरोना-रोधी वैक्सीन की दो खुराकों के बीच समय को बढ़ाकर 6 से 8 सप्ताह करने का निर्णय लिया है.'


सिंगापुर ने कोविड-19 के मामले बढ़ने के बाद लोगों के एकत्रित होने और जन गतिविधियों पर पाबंदियों को बीते 14 मई को और कड़ा कर दिया है. समूह में एकत्रित होने वाले लोगों की संख्या पांच लोगों से घटाकर दो लोगों तक कर दी गई है. यह कदम उन रिपोर्टों के बाद उठाया गया है कि कोविड-19 के ज्यादातर मामले चांगी हवाईअड्डे, स्कूल और अस्पतालों से जुड़े हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज