Home /News /world /

लाल सागर में जहाज का मलबा ढूंढ रहे थे, अचानक सामने आया इंसान से बड़े आकार का दुर्लभ जीव

लाल सागर में जहाज का मलबा ढूंढ रहे थे, अचानक सामने आया इंसान से बड़े आकार का दुर्लभ जीव

Pella नाम का जहाज का मलबा खोजा जा रहा था. वह नवंबर 2011 में मिस्र के नूवीबा बंदरगाह पर जा रहा था.

Pella नाम का जहाज का मलबा खोजा जा रहा था. वह नवंबर 2011 में मिस्र के नूवीबा बंदरगाह पर जा रहा था.

2,800 फीट की गहराई पर डूबे 'पेला' (Pella) जहाज की जांच के दौरान टीम ने जो चीज देखी, उनका मानना है कि वे 'द जाइंट स्क्विड' (The Giant Squid) हो सकते हैं.

    काहिरा. समुद्री जीवविज्ञानी, मीडिया और फिल्म निर्माताओं की एक टीम ओशनएक्स (OceanX) ने 2020 में लाल सागर (Red Sea) की गहराई का पता लगाने के लिए एक खोज शुरू की, जहां उन्हें न केवल एक विशाल जहाज मिला, बल्कि एक विशाल जीव, मिला जिसका आकार इंसान से भी बड़ा था. नवंबर 2011 में 2,800 फीट की गहराई पर डूबे ‘पेला’ (Pella) जहाज की जांच के दौरान टीम ने जो चीज देखी, उनका मानना है कि वे ‘द जाइंट स्क्विड’ (The Giant Squid) हो सकते हैं.

    अचानक से सामने आ गया जीव
    OceanX साइंस प्रोग्राम के प्रमुख मैटी रोड्रिग ने खोज के एक वीडियो में बताय कि जब तक वह जीवित रहेंगे, वह कभी भी उस दृश्य को नहीं भूल पाएंगे. उन्होंने बताया, ‘हम जहाज के मलबे को देख रहे थे कि अचानक हमारे सामने एक विशाल जीव आता है. यह हमारे ROV (रिमोटली ऑपरेटेड व्हीकल को देखता है और जहाज से लिपट जाता है.’ सितंबर 2021 में टीम को पता चला कि यह एक पर्पलबैक फ्लाइंग स्किवड (Purpleback Flying squid) था, जो दो फीट लंबा हो सकता है.

    Massive purpleback flying squid spotted swimming around a shipwreck 2800 feet below the Red Sea

    यह एक पर्पलबैक फ्लाइंग स्किवड (Purpleback Flying squid) था.

    ओशनएक्स टीम ने ओशनएक्सप्लोरर के जरिए लाल सागर तक पहुंची थी. यह रिसर्च वेसल थी. जिसमें 40 टन क्रेन के साथ सबमर्सिबल लॉन्च करने के लिए लगी थी. सोनार ऐरे और अन्य भारी उपकरणों को समंदर की गहराई मंे ले जाने के लिए लॉन्च किया गया. जहाज में दो ट्राइटन सबमर्सिबल भी हैं, जिनमें से प्रत्येक आठ घंटे तक 3,280 फीट से अधिक गहराई तक गोता लगा सकता है. इसमें रिमोटली ऑपरेटर वीइकल और एक ऑटोनॉमस अंडरवॉटर वीइकल है जो 19,685 फीट गहराई तक जा सकता है.

    OceanXplorer embarked on its maiden voyage in September 2020, which is when the crew spotted the giant sea creature lurking around the shipwreck. The Pella sank in November 2011 while traveling to the Egyptian port of Nuweiba

    Pella नाम का जहाज का मलबा खोजा जा रहा था. वह नवंबर 2011 में मिस्र के नूवीबा बंदरगाह पर जा रहा था.

    Pella नाम का जहाज का मलबा खोजा जा रहा था. वह नवंबर 2011 में मिस्र के नूवीबा बंदरगाह पर जा रहा था. इसमें जॉर्डन के अकाबा के पास आग लग गई थी. इस पर 1229 यात्री सवार थे. घटना में एक शख्स की जान भी चली गई. रिसर्चर एक अंडरवॉटर रोबॉट की मदद से मलबे को देख रहे थे, जब उन्हें स्क्विड दिखा. बताया गया है कि इस इलाके में कई ऐसे जीव रहते हैं. हालांकि, इतने विशाल जीव बेहद दुर्लभ हैं.

    Tags: Bizarre news, Bizarre story, Viral news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर