• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • तालिबान ने फिर किया उपमंत्रियों का ऐलान, इस बार भी किसी महिला को नहीं मिला 'हक'

तालिबान ने फिर किया उपमंत्रियों का ऐलान, इस बार भी किसी महिला को नहीं मिला 'हक'

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद (AP)

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद (AP)

तालिबान (Taliban) के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद (Zabihullah Mujahid) ने अफगानिस्तान (Afghanistan Crisis) की राजधानी काबुल में एक संवाददाता सम्मेलन में नए नामों की लिस्ट पेश की. मुजाहिद ने मंत्रिमंडल के विस्तार का बचाव करते हुए कहा कि इसमें हज़ारा जैसे जातीय अल्पसंख्यकों के सदस्य शामिल हैं. हालांकि, मुजाहिद ने कहा कि सरकार में महिलाओं को बाद में जोड़ा जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) पर कब्जे के बाद तालिबान (Taliban) ने दूसरी बार मंत्रियों का ऐलान किया है. मंगलवार को कुछ उपमंत्रियों की लिस्ट जारी की गई है. महिलाओं को हक देने की बात कहने वाले तालिबान ने इस बार भी किसी महिला को शामिल नहीं किया है.

    तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद (Zabihullah Mujahid) ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक संवाददाता सम्मेलन में नए नामों की लिस्ट पेश की. मुजाहिद ने मंत्रिमंडल के विस्तार का बचाव करते हुए कहा कि इसमें हज़ारा जैसे जातीय अल्पसंख्यकों के सदस्य शामिल हैं. हालांकि, मुजाहिद ने कहा कि सरकार में महिलाओं को बाद में जोड़ा जा सकता है.

    तालिबान ने पाकिस्तान को चेताया- सरकार पर नसीहत देने का हक किसी को नहीं

    तालिबान ने 7 सितंबर को अफगानिस्तान पर शासन करने के लिए एक अंतरिम व्यवस्था की घोषणा की थी. पहले जिस सरकार का ऐलान किया गया, उसमें कुल 33 मंत्री शामिल हैं. मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद को मंत्रि परिषद का प्रमुख यानी नई सरकार का मुखिया बनाया गया है. सरकार का नाम ‘इस्लामिक अमीरात ऑफ अफगानिस्तान’ रखा गया है. तालिबान के प्रमुख शेख हिब्दुल्लाह अखुंदजादा (Haibatullah Akhundzada) सुप्रीम लीडर है. उसे अमीर-उल-अफगानिस्तान कहा जाएगा. दोहा में भारत से बातचीत करने वाले शेर मोहम्मद स्टेनेकजई को उप विदेश मंत्री बनाया गया है.

    क्या पंजशीर से भागकर UAE गए अमरुल्लाह सालेह? बैंक में दिखने का दावा

    अमेरिका के मोस्ट वॉन्टेड को गृह मंत्री बनाया
    तालिबान ने अपनी सरकार में सिराजुद्दीन हक्कानी को गृह मंत्री बनाया है. आतंकी संगठन हक्कानी नेटवर्क का चीफ सिराजुद्दीन अमेरिका की आतंकी लिस्ट में मोस्ट वॉन्टेड है. अमेरिका ने उस पर करीब 35 करोड़ रुपये का इनाम घोषित किया है. सिराजुद्दीन हक्कानी का नेटवर्क पाकिस्तान से ऑपरेट होता है. दुनियाभर में कई आतंकी वारदातों के पीछे इसका हाथ रहा है.
    तालिबान की पूरी कैबिनेट इस तरह है-

    प्रधानमंत्री – मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद
    डिप्टी PM 1 – मुल्ला बरादर
    डिप्टी PM 2 – अब्दुल सलाम हनाफी
    गृह मंत्री – सिराजुद्दीन हक्कानी
    रक्षा मंत्री – मोहम्मद याकूब मुजाहिद
    वित्त मंत्री – मुल्ला हिदायतुल्ला बदरी
    विदेश मंत्री – मौलवी आमिर खान मुतक्की
    शिक्षा मंत्री – शेख मौलवी नूरुल्ला मुनीर
    न्याय मंत्री – मौलवी अब्दुल हकीम शरिया
    पवित्रता मंत्री – शेख मोहम्मद खालिद
    उच्च शिक्षा मंत्री – अब्दुल बाकी हक्कानी
    ग्रामीण विकास मंत्री – यूनुस अखुंदजादा
    शरणार्थी मामलों के मंत्री – खलीलउर्रहमान हक्कानी
    जन कल्याण मंत्री – मुल्ला अब्दुल मनन ओमारी
    मिनिस्टर ऑफ कम्युनिकेशन – नजीबुल्ला हक्कानी
    माइन्स एंड पेट्रोलियम मंत्री – मुल्ला मोहम्मद अस्सा अखुंद
    मिनिस्टर ऑफ इलेक्ट्रिसिटी – मुल्ला अब्दुल लतीफ मंसौर
    मिनिस्टर ऑफ एविएशन – हमीदुल्लाह अखुंदजादा
    मिनिस्टर ऑफ इन्फॉर्मेशन एंड कल्चर – मुल्ला खैरुल्लाह खैरख्वाह
    मिनिस्टर ऑफ इकोनॉमी – कारी दिन मोहम्मद हनीफ
    हज एंड औकाफ मिनिस्टर – मौलवी नूर मोहम्मद साकिब
    मिनिस्टर ऑफ बॉर्डर्स एंड ट्राइबल अफेयर्स – नूरउल्लाह नूरी

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज