Home /News /world /

तालिबान का फरमान- महिला एक्टर्स वाले शो बंद करें टीवी चैनल, एंकर्स का हिजाब पहनना जरूरी

तालिबान का फरमान- महिला एक्टर्स वाले शो बंद करें टीवी चैनल, एंकर्स का हिजाब पहनना जरूरी

तालिबान ने अफगानी महिलाओं पर तमाम तरह की पाबंदियां लगा रखी हैं. (AP)

तालिबान ने अफगानी महिलाओं पर तमाम तरह की पाबंदियां लगा रखी हैं. (AP)

Taliban New Religious Guidelines: तालिबान ने टेलीविजन पर आने वाली महिला पत्रकारों के लिए कहा है कि उन्हें न्यूज रिपोर्ट पेश करते समय अनिवार्य रूप से हिजाब पहनना होगा. मंत्रालय ने चैनलों से उन फिल्मों या कार्यक्रमों को प्रसारित नहीं करने के लिए कहा है, जिनमें पैगंबर मोहम्मद या अन्य सम्मानित व्यक्तियों को लेकर कुछ भी दिखाया जाता है. उसने उन फिल्मों या कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाने का आह्वान किया है, जो इस्लामी और अफगान मूल्यों के खिलाफ हैं.

अधिक पढ़ें ...

    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) पर कब्जा करने वाले तालिबान ने महिलाओं पर पाबंदी बढ़ाते हुए नया फरमान जारी कर दिया है. उसने रविवार को ‘धार्मिक दिशानिर्देश’ जारी किए हैं. तालिबान प्रशासन ने रविवार को नए ‘इस्लामिक धार्मिक दिशानिर्देश’ (Taliabn Rules For Afghan Media)जारी किए हैं, जिसके मुताबिक देश में टेलीविजन चैनलों पर सीरियल या डेली सोप में महिला एक्ट्रेस नहीं दिखाई जा सकती हैं. इतना ही नहीं तालिबान ने महिला एक्ट्रेस के साथ बने सारे पुराने सीरियल के प्रसारण को भी बंद करने के आदेश दिए हैं. तालिबानी फरमान में यह भी कहा गया है कि महिला टीवी जर्नलिस्ट एंकरिंग करते समय हिजाब पहनें.

    इसके साथ ही तालिबान ने टेलीविजन पर आने वाली महिला पत्रकारों के लिए कहा है कि उन्हें न्यूज रिपोर्ट पेश करते समय अनिवार्य रूप से हिजाब पहनना होगा. मंत्रालय ने चैनलों से उन फिल्मों या कार्यक्रमों को प्रसारित नहीं करने के लिए कहा है, जिनमें पैगंबर मोहम्मद या अन्य सम्मानित व्यक्तियों को लेकर कुछ भी दिखाया जाता है. उसने उन फिल्मों या कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाने का आह्वान किया है, जो इस्लामी और अफगान मूल्यों के खिलाफ हैं.

    तालिबान के हाथ से फिसल रहा अफगानिस्तान, सभी प्रांतों में ISIS-K ने जमाए पैर

    आदेश नहीं धार्मिक दिशानिर्देश बताया
    मंत्रालय के प्रवक्ता हाकिफ मोहजीर ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया है, ‘ये नियम नहीं बल्कि धार्मिक दिशानिर्देश हैं.’ ये नए दिशानिर्देश रविवार शाम सोशल मीडिया पर खूब प्रसारित किए गए हैं. तालिबान ने दोहा में हुए समझौते में वादा किया था कि वह पहले की तरह शासन नहीं करेगा और खुले विचार के साथ आया है. लेकिन फिर भी उसने नियम लागू कर बताना शुरू कर दिया कि महिलाएं क्या पहन सकती हैं और क्या नहीं.

    अफगानिस्तान के इस इलाके में घुसने से कांपता है तालिबान, ISIS-K का है कब्जा

    पत्रकारों पर हो रहा अत्याचार
    इसके साथ ही तालिबान ने मीडिया की आजादी का वादा किया था लेकिन अफगानिस्तान में कई पत्रकारों के साथ मारपीट हो रही है, उन्हें यातनाएं दी जा रही हैं. देश पर 15 अगस्त को कब्जा करने वाला तालिबान 20 साल बाद सत्ता में वापस आया है. यहां दो दशक तक पश्चिम समर्थित सरकार का शासन रहा है, जो तालिबान के कब्जे के बाद गिर गई थी. इसी सरकार के समय में अफगान मीडिया ने काफी प्रगति की है. तालिबान के 2001 में सत्ता से बेदखल होने के बाद यहां निजी क्षेत्र में भारी निवेश हुआ है. दर्जनों टीवी और रेडियो चैनल शुरू किए गए हैं.

    Tags: Afghanistan Crisis, Taliban

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर