Home /News /world /

US सैनिकों के जाते ही रंग दिखाने लगा तालिबान, पंजशीर में किया हमला; कई लड़ाके ढेर

US सैनिकों के जाते ही रंग दिखाने लगा तालिबान, पंजशीर में किया हमला; कई लड़ाके ढेर

नॉर्दर्न एलायंस के मुताबिक, गोलीबारी में उनके भी दो लड़ाके मारे गए हैं. (फोटो- AP)

नॉर्दर्न एलायंस के मुताबिक, गोलीबारी में उनके भी दो लड़ाके मारे गए हैं. (फोटो- AP)

तालिबान (Taliban) ने अफगानिस्तान (Afghanistan) पर कब्जा जमा लिया है, लेकिन वह अभी तक पंजशीर को अपने काबू में नहीं कर पाया है. यहां पर अहमद मसूद की अगुआई में नॉर्दर्न एलायंस (Northern Alliance) के लड़ाकों ने तालिबान के खिलाफ जंग छेड़ी हुई है. 

अधिक पढ़ें ...

    पंजशीर. अफगानिस्तान (Afghanistan) से अमेरिकी सैनिकों (US Forces) की पूरी तरह से वापसी के बाद काबुल एयरपोर्ट पर भी तालिबान (Taliban) ने कब्जा कर लिया है. अब सिर्फ पंजशीर ही रह गया है. कुछ दिन पहले ही पंजशीर में तालिबान और नॉर्दन अलांयस (Northern Alliance) के बीच सीज़फायर को लेकर सहमति बनी थी. लेकिन, अमेरिकी सैनिकों के जाने के बाद तालिबान ने अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया है. पंजशीर में नॉर्दन अलायंस की अगुआई कर रहे अहमद मसूद से जुड़े सूत्रों ने दावा किया है कि तालिबान ने सोमवार रात को कई तरफ से हमला बोला.

    पंजशीर के लड़ाके भी उनका जवाब दे रहे हैं. चारों तरफ से हुई गोलीबारी में तालिबान के 7-8 लड़ाके मारे गए हैं. नॉर्दर्न एलायंस के मुताबिक, गोलीबारी में उनके भी दो लड़ाके मारे गए हैं. उधर, दायकुंदी प्रांत के खदीर जिले में तालिबान ने हजारा समुदाय के 14 लोगों की हत्या कर दी है.

    EXCLUSIVE: भारत से हथियार सप्लाई की डिटेल खंगाल रही है ISI, रडार पर अफगान सैनिक और अधिकारी

    हजारा समुदाय पर तालिबान का जुल्म
    हजारा समुदाय से जुड़े कार्यकर्ताओं का दावा है कि हजारा बहुल जिले दायकुंदी में तालिबान ने नजीबा लाइब्रेरी और कंप्यूटर लैब में तोड़फोड़ और लूटपाट की है. हजारा पत्रकार बशीर अहंग के मुताबिक इस लाइब्रेरी में स्थानीय हजारा लड़कियां और लड़के पढ़ाई करते थे.

    अफगानिस्तान के अखबार इतलेआत रोज ने दावा किया है कि दायकुंदी प्रांत के खदीर जिले में तालिबान ने कुल 14 लोगों को मारा है, जिनमें 2 आम नागरिक हैं. तालिबान ने दर्जनभर हजारा लड़ाकों की हत्या की है. तालिबान स्थानीय जासूसी नेटवर्क की मदद से हजारा लड़ाकों की पहचान कर रहे हैं.

    तालिबान के पास हथियारों का जखीरा
    अमेरिका ने अफगानिस्तान के सैनिकों को अब तक जितने भी हथियार, गोला-बारूद, लड़ाकू विमान, हेलीकॉप्टर और अन्य सैन्य साजो-सामान दिए थे, वे अब पूरी तरह से तालिबान के कब्जे में हैं. तालिबान ने आम लोगों से भी भारी संख्या में हथियार इकट्ठा किए हैं.

    कुछ दिन पहले तालिबान ने एक निर्देश जारी किया था. तालिबान प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने ट्वीट कर कहा था कि ‘काबुल शहर में जिनके पास सरकारी वाहन, हथियार, गोला-बारूद और अन्य सरकारी सामान हैं, उन्हें स्वेच्छा से एक सप्ताह के भीतर संबंधित इस्लामिक अमीरात के अधिकारियों को सौंपना है. उन्होंने इस आदेश का उल्लंघन करने वालों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर किसी के पास इनमें से कोई सामान पाया जाता है तो उन पर मुकदमा चलाया जाएगा.’

    तालिबान बोला- ओसामा बिन लादेन ने नहीं किया था 9/11 अटैक, ये अमेरिका के जंग छेड़ने का था बहाना

    बीते हफ्ते ही सीजफायर पर बनी थी सहमति
    बीते हफ्ते ही तालिबान और पंजशीर के प्रतिनिधियों के बीच सीज़फायर के लिए परवान प्रांत की राजधानी चारिकर में बातचीत हुई थी. इस दौरान दोनों गुट एक-दूसरे पर हमला नहीं करने पर सहमत हुए. तालिबान की ओर से बातचीत की अगुवाई मौलाना अमीर खान मुक्तई मुक्तई ने की. इस बातचीत को तालिबान ने अमन जिरगा नाम दिया गया था.


    मसूद ने कहा था-सरेंडर करने से अच्छा मरना पसंद करूंगा

    इससे पहले अहमद मसूद ने कहा कि वह तालिबान के सामने सरेंडर नहीं करेंगे, लेकिन उससे बात करने को तैयार हैं. उनका एक इंटरव्यू बुधवार को फ्रेंच मैगजीन में प्रकाशित हुआ है. तालिबान के कब्जे के बाद अपने पहले इंटरव्यू में मसूद ने कहा, ‘मैं सरेंडर करने से अच्छा मरना पसंद करूंगा. मैं अहमद शाह मसूद का बेटा हूं. मेरी डिक्शनरी में सरेंडर जैसा शब्द ही नहीं है.’

    पंजशीर में घुसने की कोशिश कर रहे 35 तालिबानी मारे जा चुके
    बता दें कि पंजशीर की रखवाली में पांच-पांच पर्वत तैनात हैं. अलग-अलग दौर में कई कोशिशें हुईं. तालिबान ने तो जी-जान लगा दिया. पंजशीर में घुसने की कोशिश कर रहे 35 तालिबानी मारे जा चुके हैं. कहा जा रहा है कि पहले तालिबानियों को जिंदा पकड़ा गया और फिर उन्हें गोली मार दी गई.

    Tags: Afghanistan Crisis, Afghanistan Taliban conflict, Joe Biden, Panjshir Province

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर