Home /News /world /

काबुल में ड्रोन हमले में असैन्य नागरिकों के मारे जाने की खबरों से वाकिफ है अमेरिका: पेंटागन

काबुल में ड्रोन हमले में असैन्य नागरिकों के मारे जाने की खबरों से वाकिफ है अमेरिका: पेंटागन

अमेरिकी सेंट्रल कमान के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने कहा कि अमेरिका को हवाई हमले में किसी भी निर्दोष के मारे जाने का बेहद दुख होगा.   फाइल फोटो

अमेरिकी सेंट्रल कमान के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने कहा कि अमेरिका को हवाई हमले में किसी भी निर्दोष के मारे जाने का बेहद दुख होगा. फाइल फोटो

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान (Afghanistan) से अमेरिकी सैनिकों (US Forces) की वापसी और सामान्य नागरिकों की निकासी में सिर्फ एक दिन का वक्त बचा है. ऐसे में काबुल एयरपोर्ट पर अमेरिकी अभियान तेज कर दिया गया है.

    वाशिंगटन. अमेरिका के रक्षा विभाग के मुख्यालय पेंटागन (Pentagon) ने सोमवार को कहा कि हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (Kabul Airport) की ओर जा रहे विस्फोटकों से भरे वाहन पर ड्रोन हमले (Drone Attack) के बाद काबुल में असैन्य नागरिकों के हताहत (Kabul Attack) होने की खबरों से अमेरिका वाकिफ हैं. अमेरिकी सेंट्रल कमान के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने कहा, ‘‘हमें आज काबुल में एक वाहन पर हुए हवाई हमले में असैन्य नागरिकों के मारे जाने की जानकारी है. हम इस हवाई हमलों में हुए नुकसान का अब भी आकलन कर रहे हैं….’’

    अर्बन ने कहा कि अमेरिका को हवाई हमले (US Air Attack) में किसी भी निर्दोष के मारे जाने का बेहद दुख होगा. उन्होंने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि वाहन पर हमले के बाद वहां काफी शक्तिशाली विस्फोट हुए थे, जो दर्शाता है कि उसके अंदर बड़ी मात्रा में विस्फोटक सामग्री थी, जिससे अधिक लोग हताहत हो सकते थे. यह स्पष्ट नहीं है कि क्या हुआ होगा और हम जांच कर रहे हैं.’’

    हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक काबुल एयरपोर्ट पर अमेरिका का अभियान निर्बाध जारी है. बता दें कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी और सामान्य नागरिकों की निकासी में सिर्फ एक दिन का वक्त बचा है. काबुल एयरपोर्ट पर हमले के बारे में अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवियन और चीफ ऑफ स्टाफ रोन क्लेन ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन को जानकारी दी. रिपोर्ट्स के मुताबिक बाइडन ने अपने आदेशों को दोहराते हुए कहा कि जमीन पर मौजूद अमेरिकी सैन्य बलों की सुरक्षा के लिए हरसंभव कदम उठाए जाएं.

    बता दें कि रविवार को अमेरिकी ड्रोन हमले के बाद सोमवार सुबह फिर काबुल हवाई अड्डे के पास रॉकेट्स की आवाज सुनी गई. रॉकेट हमले सोमवार सुबह काबुल के सलीम कारवां इलाके में हुए. विस्फोट के बाद गोलीबारी शुरू हो गई. हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि गोलीबारी कौन कर रहा था. वहीं समाचार एजेंसी AFP के अनुसार काबुल हवाई अड्डे के पास रहने वाले लोगों ने कहा कि उन्होंने मिसाइल डिफेंस सिस्टम के एक्टिवेट होने की आवाज सुनी. वहीं एयरपोर्ट के पास धुआं उठता देखा गया. माना जा रहा है कि इंटरसेप्टर्स ने रॉकेट को मार गिराया.

    अमेरिका ने किया ड्रोन अटैक
    इससे पहले रविवार को अफगानिस्तान के काबुल में एक अमेरिकी हवाई हमले में उस वाहन को निशाना बनाया गया, जिसमें इस्लामिक स्टेट के एक सहयोगी संगठन के कई आत्मघाती हमलावर सवार थे. अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि ये आत्मघाती हमलावर काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर अमेरिकी सेना के सैन्य निकासी अभियान को निशाना बनाना चाहते थे.

    पढ़ेंः तालिबान का बड़ा बयान, कहा, भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर लड़ लें, हमें दूर ही रखें

    यह रॉकेट हमला ऐसे समय किया गया है, जब अमेरिका अफगानिस्तान से लोगों को निकालने के लिए एक ऐतिहासिक अभियान संचालित कर रहा है, जिसमें काबुल के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से हज़ारों लोगों को निकाला गया है. अफगानिस्तान में दो सप्ताह पहले तालिबान के कब्जे के बाद से बहुत अराजकता की स्थिति है.

    Tags: Afghanistan, Drone Attack, Kabul Airport, Taliban, US Air Attack, White house, अमेरिकी हवाई हमला, काबुल हमला, तालिबान, व्हाइट हाउस

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर