अफगान उपराष्ट्रपति ने PAK सेना की फोटो शेयर कर कही ये बात, भड़क गया पाकिस्तान

अफगानी उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह (Amrullah Saleh) ने जो तस्वीर शेयर की है वो पाकिस्तानी सेना के भारतीय सेना के सामने सरेंडर करने की तस्वीर है.

तालिबान (Taliban) से जंग छिड़ने के बाद से ही अफगानिस्तान (Afghanistan), पाकिस्तान (Pakistan) पर तालिबान को मदद देने का आरोप लगाता आया है. हाल ही में अफगानी उपराष्ट्रपति ने कहा था कि पाकिस्तान ने खुलेआम ऐलान किया है कि अगर अफगानिस्तान ने तालिबान का विरोध किया तो उसे परिणाम भुगतने होंगे.

  • Share this:
    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान (Taliban) का आतंक जारी है. अफगानिस्तान के शीर्ष नेता पहले ही कह चुके हैं पाकिस्तान खुले तौर से तालिबान को समर्थन दे रहा है. अब अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह (Amrullah Saleh) ने एक तस्वीर शेयर कर पाकिस्तान (Pakistan) पर तंज कसा है. जिसके बाद पाकिस्तान ने आपत्ति जताई है.

    अफगानी उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह (Amrullah Saleh) ने जो तस्वीर शेयर की है वो पाकिस्तानी सेना के भारतीय सेना के सामने सरेंडर करने की तस्वीर है. फोटो शेयर करते हुए सालेह ने लिखा, 'हमारे इतिहास में ऐसी कोई तस्वीर नहीं है और न कभी होगी. हां, कल कुछ पल के लिए उस वक्त मैं हिल गया था, जब हमारे ऊपर से गुजरते हुए रॉकेट कुछ मीटर की दूरी पर गिरा. पाकिस्तान के प्रिय ट्विटर हमलावरों, तालिबान और आतंकवाद आपके उस घाव पर मरहम नहीं लगाएगा, जो घाव और जो ट्रॉमा आपको ये तस्वीर देगा. कोई और तरीका खोजें.'

    अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने तालिबान को दी चेतावनी, पाकिस्तान के लिए कही ये बात



    1971 की लड़ाई में के बाद की है ये फोटो
    अफगानी उपराष्ट्रपति ने जो तस्वीर शेयर की है, वो साल 1971 की लड़ाई में पाकिस्तान की भारत के हाथों हुई बुरी तरह हुई हार की है. इस लड़ाई में भारत से बुरी तरह पिटने के बाद पाकिस्तान ने हार मान ली थी. उस वक्त पाकिस्तान के 80 हजार से ज्यादा सैनिकों ने भारत के पराक्रम और साहस का लोहा मानकर अपनी जान बचाने के लिए आत्मसमर्पण कर दिया था. पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने भारतीय आर्मी चीफ के सामने सरेंडर के कागजात पर हस्ताक्षर किए थे.

    हाल ही में तालिबान ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में राष्ट्रपति आवास को निशाना बनाने की कोशिश की थी और तीन रॉकेट दागे थे. हालांकि, रॉकेट हमले में किसी को नुकसान नहीं पहुंचा, लेकिन अफगानिस्तान के उप-राष्ट्रपति ने इस रॉकेट हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ बताया है.

    पाकिस्तान ने अपने दोस्त चीन को दिया झटका, TikTok ऐप पर फिर लगाया प्रतिबंध

    अफगानिस्तान ने पहले ही साफ कर दिया है कि वो किसी भी सूरत में तालिबान के आगे घुटने नहीं टेकेगा. अफगानिस्तान ने अंतिम सांस तक तालिबान से लड़ने की बात कही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.