Home /News /world /

बांग्लादेश में उपद्रवियों ने हिंदुओं के 20 घरों में लगाई आग, पुलिस के साथ झड़प

बांग्लादेश में उपद्रवियों ने हिंदुओं के 20 घरों में लगाई आग, पुलिस के साथ झड़प

उपद्रवियों की पुलिस के साथ झड़प भी हुई है.

उपद्रवियों की पुलिस के साथ झड़प भी हुई है.

बांग्लादेश में हिन्दू मंदिरों पर हमले 13 अक्टूबर से शुरू हुए. अष्टमी के दिन मूर्ति विसर्जन के मौके पर कई पूजा मंडपों में तोड़फोड़ हुई. सोशल मीडिया पर अफवाह उड़ी थी कि पूजा पंडाल में कुरान मिली है, जिसके बाद कई जगहों पर हिंसक घटनाएं हुईं.

अधिक पढ़ें ...

    ढाका. बांग्लादेश (Bangladesh) में हिंदुओं के प्रति हिंसा जारी है. दुर्गा पूजा पंडालों और इस्कॉन मंदिर में तोड़फोड़ और हिंसा के बाद अब रंगपुर में उपद्रवियों ने हिंदुओं के 20 घरों को जला दिया है. वहीं, स्थानीय संघ परिषद के अध्यक्ष के मुताबिक उपद्रवियों ने कम से कम 65 घरों में आग लगाई है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, उपद्रवियों की पुलिस के साथ झड़प भी हुई है.

    ढाका ट्रिब्यून के अध्यक्ष मोहम्मद सादकुल इस्लाम के अनुसार, उपद्रवी जमात-ए-इस्लामी और छात्र शाखा इस्लामी छात्र शिविर की स्थानीय इकाई के थे.

    बांग्लादेश में हिंसा के बाद भड़के हिंदू, पूरे देश में भूख हड़ताल करने की दी धमकी

    बांग्लादेश के प्रमुख न्यूज मीडिया हाउस dhakatribune.com की खबर के अनुसार, रविवार को रंगपुर(Rangpur) के उपजिला पीरगंज (Pirganj upazila) में हिंदुओं के घरों में तोड़फोड़ के बाद आग लगाई गई. रामनाथपुर यूनियन में माझीपारा के जेलपोली में इस्लामिक कट्टरपंथियों के एक समूह ने हिंदुओं के घरों पर हमला किया. इसमें 20 घरों को जला दिया गया.

    बांग्लादेश में हिन्दू मंदिरों पर हमले 13 अक्टूबर से शुरू हुए. अष्टमी के दिन मूर्ति विसर्जन के मौके पर कई पूजा मंडपों में तोड़फोड़ हुई. सोशल मीडिया पर अफवाह उड़ी थी कि पूजा पंडाल में कुरान मिली है, जिसके बाद कई जगहों पर हिंसक घटनाएं हुईं. उपद्रवियों ने चिट्टागांव के कोमिला इलाके में दुर्गा पंडालों पर हमले किए, जिसमें 4 लोगों की मौत हो गई थी.  इसके अलावा चांदपुर, चिट्‌टागांव, गाजीपुर, बंदरबन, चपाईनवाबगंज और मौलवीबाजार में कई पूजा पंडालों में तोड़फोड़ की गई.

    आपत्तिजनक पोस्ट के बाद भड़की हिंसा
    पुलिस का कहना है कि एक हिंदू व्यक्ति ने फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट की थी. इसके बाद तनाव पैदा हो गया. तनाव बढ़ने के तुरंत बाद पुलिस मौके पर पहुंची और युवक के घर के चारों ओर पहरा दे दिया. पुलिस का कहना है कि उन्होंने उसके घर को तो बचा लिया, लेकिन उपद्रवियों ने आस-पास के करीब 15 से 20 घरों में आग लगा दी.

    फायर ब्रिगेड को घटना की सूचना रात करीब 9.30 बजे पता चली. इसके बाद पीरगंज, मीठापुकुर और रंगपुर शहर से दमकल की गाड़ियां आग बुझाने के लिए पहुंचीं. यहां अभी भी बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है.

    बांग्लादेश के गृह मंत्री बोले- दुर्गा पूजा पंडालों पर सुनियोजित था हमला, ये थी वजह

    इन इलाकों में तनाव की स्थिति
    हमलों और झड़पों के बाद चांदपुर, कॉक्स बाजार, बंदरबन, सिलहट, चटगांव और गाजीपुर में स्थिति गंभीर बनी हुई है. अधिकारियों को स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए देश के विभिन्न हिस्सों में बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (BGB) के जवानों, पुलिस और RAB की बड़ी टुकड़ियों को तैनात करना पड़ा है.

    अब तक 100 से ज्यादा संदिग्ध गिरफ्तार
    BGB के संचालन निदेशक लेफ्टिनेंट कर्नल फैजुर रहमान ने कहा कि संबंधित उपायुक्तों के अनुरोध पर और गृह मंत्रालय के निर्देश पर बीजीबी कर्मियों को तैनात किया गया था. हिंदू मंदिरों में तोड़फोड़ करने के आरोप में 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है.

    Tags: Bangladesh, Communal Riot, Durga Puja 2021, Violence

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर