Home /News /world /

झूठी निकली अफगान महिला खिलाड़ी के सिर कलम करने की खबर, सामने आया नया सच

झूठी निकली अफगान महिला खिलाड़ी के सिर कलम करने की खबर, सामने आया नया सच

अक्टूबर में ही टीम प्लेयर की हत्या कर दी गई थी. (Twitter)

अक्टूबर में ही टीम प्लेयर की हत्या कर दी गई थी. (Twitter)

महजबीन हकीमी (Mahjabin Hakimi) नाम की एक महिला खिलाड़ी को तालिबान ने अक्टूबर में मार डाला था, लेकिन किसी को भी इस भीषण हत्याकांड के बारे में पता नहीं चला.

    काबुल. दो दिन पहले अफगानिस्तान (Afghanistan) से दिल दहला देने वाली खबर सामने आई थी. इसमें कहा गया था कि तालिबान (Taliban) के लड़ाकों ने देश की जूनियर महिला वालीबॉल टीम (junior women’s national volleyball team) की प्लेयर का सिर कलम कर दिया है. अब खबर है कि यह खबर झूठी है. महजबीन हकीमी नाम की इस लड़की की मौत तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जा करने से भी 10 दिन पहले हुई थी. ऑल्ट न्यूज के मुताबिक, महजबीन की मौत सुसाइड करने से हुई है. जबकि घर वाले इसके लिए उसके मंगेतर को जिम्मेदार मानते हैं.

    इससे पहले खबर आई थी कि एक इंटरव्यू में टीम कोच सुराया अफजाली (बदला हुआ नाम) ने बताया है कि महजबीन हकीमी (Mahjabin Hakimi) नाम की 25 वर्षीय महिला खिलाड़ी को तालिबान ने अक्टूबर में मार डाला था, लेकिन किसी को भी इस भीषण हत्याकांड के बारे में पता नहीं चला, क्योंकि विद्रोहियों ने उसके परिवार को इसका खुलासा न करने की धमकी दी थी.

    क्या है सच ?
    कई सोशल मीडिया अकाउंट्स ने महिला की खिलाड़ी की मौत पर सवाल उठाए थे. पत्रकार दीपा परेंत ने ट्वीट किया, “मैंने उसके परिवार से बात की है, उसकी सिर कलम करने की खबरें महज अफवाह हैं. उसक मौत का कारण सुससाइड है.’ यह घटना अक्टूबर पर में नहीं, बल्कि 6 अगस्त की है. यानी तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जा करने से ठीक 10 दिन पहले. तालिबान ने 15 अगस्त को देश पर कब्जा किया था.

    ऑल्ट न्यूज ने मृतक के कोच से भी बात की, जिन्होंने उसे 2015 तक ट्रेनिंग दी थी. उन्होंने बताया िक वह हमारी टीम की प्लेयर थी. 2016 में जब उन्होंने अफगानिस्तान छोड़ा, तब तक महजबीन खेलना छोड़ चुकी थी.

    Tags: Afghanistan, Afghanistan Crisis, Afghanistan latest news, Afghanistan taliban news, Afghanistan Terrorism, Afghanistan-Taliban, Afghanistan-Taliban Fighting, World news, World news in hindi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर