होम /न्यूज /दुनिया /करजई बोले-अफगान मामलों में दखल न दें इमरान खान, PAK ने ही आतंकवाद फैलाया

करजई बोले-अफगान मामलों में दखल न दें इमरान खान, PAK ने ही आतंकवाद फैलाया

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई (AP)

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई (AP)

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई (Hamid Karzai) ने कहा- 'इमरान के आरोप बेबुनियाद हैं. वो ...अधिक पढ़ें

    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan Crisis) में तालिबान (Taliban) के कब्जे के बाद से हालात खराब होते जा रहे हैं. पाकिस्तान (Pakistan) सरकार तालिबान के खुलकर समर्थन में भी आ रही है. इस बीच अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई (Hamid Karzai) ने पाकिस्तान और उसके प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) को कड़ी फटकार लगाई है. रविवार को इस्लामाबाद में आयोजित OIC समिट पर करजई ने कहा- ‘इमरान खान और पाकिस्तान सरकार को हमारे मामलों में दखलंदाजी फौरन बंद कर देनी चाहिए. अफगानिस्तान में आतंकवाद पाकिस्तान ने ही फैलाया है.’

    ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कंट्रीज (OIC) समिट के अगले ही दिन करजई ने कहा कि इमरान खान अफगानिस्तान की तालिबान हुकूमत के अघोषित सलाहकार भी हैं. लिहाजा कूटनीतिक हलकों में भी उनकी बात को गंभीरता से लिया जाता है.

    अफगान राजदूत के इस्तीफे के बाद तालिबान ने फिर की संयुक्त राष्ट्र से सीट के लिए अपील

    इमरान ने क्या कहा था?
    रविवार को OIC समिट के दौरान इमरान ने कहा था- ‘पाकिस्तान में आतंकी हमले अफगानिस्तान की वजह से होते हैं. वहां इस्लामिक स्टेट समेत कई आतंकी संगठन मौजूद हैं. हम चाहते हैं कि दुनिया के तमाम देश इस बात पर ध्यान दें कि अफगानिस्तान को मदद की जरूरत है. अगर वक्त रहते अफगानिस्तान की मदद नहीं की गई तो वहां हालात बदतर हो सकते हैं.’

    कभी कोहनी से तोड़ा अखरोट तो कभी सिर से फोड़ दिया तरबूज! वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाला पाकिस्तानी शख्स हुआ ट्रोल

    अफगानिस्तान को बदनाम करने की साजिश रचते हैं इमरान
    करजई ने कहा- ‘इमरान के आरोप बेबुनियाद हैं. वो अफगानिस्तान को बदनाम करने की साजिश रचते रहे हैं. सच्चाई तो ये है कि इस्लामिक स्टेट के आतंकी पाकिस्तान में मौजूद हैं और वो हमारे देश में हमले करते हैं. मैं इमरान को यही सलाह देना चाहता हूं कि अब भी वक्त है कि वो हमारे मामलों में दखलंदाजी बंद करें. पाकिस्तान को दुनिया में हमारी पैरवी करने को कोई जरूरत नहीं है. (ANI इनपुट)

    Tags: Afghanistan Crisis, Afghanistan Terrorism, Imran khan, Pakistan

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें