Home /News /world /

nationwide curfew follows sri lanka violence mahinda faces call for arrest 10 points so far

दंगाइयों को देखते ही गोली मारने के आदेश, पढ़ें श्रीलंका संकट के 10 अपडेट्स

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने देशव्यापी कर्फ्यू को 12 मई तक बढ़ा दिया है.  (AP)

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने देशव्यापी कर्फ्यू को 12 मई तक बढ़ा दिया है. (AP)

हिंसक विरोध प्रदर्शन को काबू करने के लिए पूरे देश में कर्फ्यू लगाया गया है. इसी बीच कल खबर आई थी कि सेना ने आदेश जारी किया है कि उपद्रवियों को देखते ही गोली मार दी जाए. हालांकि, श्रीलंकाई चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ और सेना के कमांडर जनरल शैवेंद्र सिल्वा ने इस दावे का खंडन किया है.

अधिक पढ़ें ...

Sri Lanka Unrest Latest Update: पड़ोसी देश श्रीलंका आजादी के बाद से सबसे बुरे आर्थिक संकट से गुजर रहा है. यहां सोमवार-मंगलवार को हुई हिंसा के बाद गृहयुद्ध के हालात बन गए हैं. प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री के सरकारी आवास को घेरकर उसमें कई पेट्रोल बम फेंके. कई गाड़‍ियों को जला दिया. कई मंत्रियों के घर जला दिए गए हैं. अब तक करीब 200 लोग घायल हुए हैं और 8 लोगों की मौत हो गई है. मरने वालों एक सांसद भी शामिल हैं.

हिंसक विरोध प्रदर्शन को काबू करने के लिए पूरे देश में कर्फ्यू लगाया गया है. इसी बीच कल खबर आई थी कि सेना ने आदेश जारी किया है कि उपद्रवियों को देखते ही गोली मार दी जाए. हालांकि, श्रीलंकाई चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ और सेना के कमांडर जनरल शैवेंद्र सिल्वा ने इस दावे का खंडन किया है. सिल्वा ने कहा कि सेना किसी भी हालात इस तरह के कदम नहीं उठाएगी.

आइए जानते हैं श्रीलंका में मौजूदा हालात के 10 अपडेट्स…

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने देशव्यापी कर्फ्यू को 12 मई तक बढ़ा दिया है. इसके बाद भी विरोध-प्रदर्शन जारी हैं. लोग सड़कों पर हिंसा कर रहे हैं.
हिंसा में अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 100 से ज्यादा प्रॉपटी को नुकसान हुआ. 300 से ज्यादा लोग जख्मी बताए जा रहे हैं.
राजनीतिक अस्थिरता के बीच विपक्ष संसद में अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी कर रहा है. इसके लिए राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे से विपक्ष के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की है.
श्रीलंका में फंसे भारतीयों के लिए हेल्पलाइन नंबर +94-773727832 और ईमेल ID cons.colombo@mea.gov.in जारी की गई है. कोई भी समस्या होने पर इनपर संपर्क किया जा सकता है.
बीते रोज राजपक्षे परिवार के भारत भाग आने की अफवाह की गर्म रही. बाद में इंडिया एम्बेसी ने इस दावे का खारिज किया.
महिंदा राजपक्षे के इस्तीफे से देश में राजनीतिक शून्य पैदा हो गया है. इसे लेकर श्रीलंकाई निर्यातकों ने जल्द एक नई सरकार नियुक्त करने की मांग की है.
ज्वाइंट अपैरल्स एसोसिएशन फोरम ने जारी हिंसा की निंदा करते हुए कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि मौजूदा राजनीतिक शून्य को भरने के लिए जल्द एक नई सरकार की नियुक्ति की जाए. हम नेताओं और अधिकारियों से देश भर में राजनीतिक स्थिरता को तुरंत बहाल करने का अपील करते हैं.
मंगलवार को स्पीकर महिंदा यापा अबेयवर्धने ने संकट में घिरे राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे से अनुरोध किया कि वे इस सप्ताह संसद का सत्र फिर से बुलाएं, ताकि देश में दशकों के सबसे खराब आर्थिक संकट को लेकर अभूतपूर्व हिंसा और सरकार के खिलाफ व्यापक विरोध के बीच मौजूदा स्थिति पर चर्चा की जा सके.
दूसरी ओर महिंदा राजपक्षे के खिलाफ लोगों का गुस्सा शांत नहीं हो रहा है. मंगलवार को भीड़ ने उनके आवास और त्रिंकोमाली में नौसेना मुख्यालय को घेर रखा है.
सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने मंगलवार को राजपक्षे परिवार और उनके वफादारों को देश से भागने से रोकने के लिए कोलंबो में बंदरानाइक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की ओर जाने वाली सड़क पर चेक पोस्ट बना दिया है.

Tags: Sri lanka, Violence

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर