होम /न्यूज /दुनिया /नेपाल: हिमस्खलन की चपेट में आने से 1 की मौत, भारतीय पर्वतारोही सहित 12 लोग घायल

नेपाल: हिमस्खलन की चपेट में आने से 1 की मौत, भारतीय पर्वतारोही सहित 12 लोग घायल

नेपाल के माउंट मानसलू के आधार शिविर में हिमस्खलन की चपेट में आने से कम से एक पर्वतारोही की मौत हो गयी.

नेपाल के माउंट मानसलू के आधार शिविर में हिमस्खलन की चपेट में आने से कम से एक पर्वतारोही की मौत हो गयी.

मीडिया में आयी खबरों में यह जानकारी दी गई. 'द हिमालयन टाइम्स' अखबार ने बताया कि पर्यटन विभाग ने सोमवार सुबह 11 बजकर 30 ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पर्यटन विभाग ने सोमवार सुबह 11 बजकर 30 मिनट पर हिमस्खलन होने की पुष्टि की.
अभियान के सरकारी अधिकारी यशोदा आचार्य ने कहा कि बचाव अभियान जारी है.
मौसम खराब होने के कारण बचाव अभियान में समस्या हो रही है.

काठमांडू. नेपाल के माउंट मानसलू के आधार शिविर में सोमवार को हिमस्खलन की चपेट में आने से कम से एक पर्वतारोही की मौत हो गयी तथा भारतीय पर्वतारोही बलजीत कौर समेत 12 पर्वतारोही घायल हो गए. मीडिया में आयी खबरों में यह जानकारी दी गई. ‘द हिमालयन टाइम्स’ अखबार ने बताया कि पर्यटन विभाग ने सोमवार सुबह 11 बजकर 30 मिनट पर हिमस्खलन होने की पुष्टि की. घायलों में भारतीय पर्वतारोही बलजीत कौर शामिल है. गोरखा पुलिस के अनुसार, मृतक की पहचान पर्वतारोहण सहायक अनूप राय के तौर पर की गयी है. सूत्रों ने स्थानीय मीडिया को बताया कि ‘सेवन समिट ट्रैक्स’, ‘सातोरी एडवेंचर’, ‘इमेजिन नेपाल ट्रेक्स’, ‘एलीट एक्सपीडिशन’ और ‘8के एक्सपीडिशन’ के शेरपा पर्वतारोही और अन्य इस हिमस्खलन में घायल हो गए.

खबर के अनुसार, 8के अभियान से संबद्ध पेम्बा शेरपा ने कहा कि भारतीय पर्वतारोही बलजीत कौर और उनके शेरपा गाइड दोनों को मामूली चोटें आईं तथा वे लोग सुरक्षित हैं. ‘काठमांडू पोस्ट’ अखबार ने विभाग के निदेशक के हवाले से बताया कि पर्यटन विभाग का अभी तक घटनास्थल पर अधिकारियों से संपर्क नहीं हो पाया है. हिमस्खलन माउंट मानसलू के चौथे शिविर के ठीक नीचे के मार्ग पर उस समय हुआ जब पर्वतारोही उच्च शिविरों में रसद (लॉजिस्टिक) ला रहे थे. माउंट मानसलू पर अभियान के सरकारी अधिकारी यशोदा आचार्य ने कहा कि बचाव अभियान जारी है और विभिन्न हेलीकॉप्टर सेवाएं लोगों की तलाश में जुटी हैं. माउंट मानसलू आधार शिविर में खराब मौसम के कारण बचाव दल के प्रयासों में बाधा आ रही है.

Tags: Nepal

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें