रूस व अमेरिका फिर से अपने राजदूतों को भेजेंगे : शिखर वार्ता के बाद पुतिन बोले

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन. (एपी फाइल फोटो)

जिनेवा में शिखर वार्ता के बाद रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (putin) ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि रूस और अमेरिका आपसी तनाव को कम करने के प्रयास कर रहे हैं. इसके तहत अपने-अपने राजदूतों को वापस उनके पदो पर भेजने के लिए तैयार हो गए हैं. रूस और अमेरिका के बीच बढ़े तनावों के मद्देनजर दूतावास कर्मियों की संख्‍या में कटौती की गई थी.

  • Share this:
    जिनेवा . रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को कहा कि वह और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन तनाव कम करने के प्रयासों के तहत अपने राजदूतों को वापस उनके पदों पर भेजने के लिए सहमत हुए हैं.

    जिनेवा में बाइडन के साथ बुधवार को शिखर वार्ता के बाद पुतिन ने संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की. दोनों देशों के बीच तनाव में वृद्धि के बाद दूतावासों में कर्मियों की कटौती की गयी थी.

    ये भी पढ़ें : दिल्ली पुलिस की हाईकोर्ट में दलील- अदालत ने सोशल मीडिया नैरेटिव के आधार पर दी आरोपियों को जमानत

    अमेरिका में रूसी राजदूत अनातोली एंटोनोव को करीब तीन महीने पहले वाशिंगटन से वापस बुला लिया गया था जब बाइडन ने पुतिन को हत्यारा कहा था. रूस में अमेरिकी राजदूत जॉन सुलिवन ने करीब दो महीना पहले मास्को छोड़ दिया था.

    ये भी पढ़ें  भारत की मदद के नाम पर पाकिस्तानी NGO's ने करोड़ों रुपये जुटाए, अब उन्हीं पैसों से टेरर फंडिंग का शक- रिपोर्ट

    रूस और अमेरिका के आपसी तनाव का कारण 2014 में रूस के क्रीमिया पर कब्जा कर लेना माना जाता है, क्‍योंकि इस घटना के बाद दोनों देशों के बीच रिश्ते खराब हो गए थे. इसके बाद अमेरिकी पक्ष ने रूस पर 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में दखल देकर डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) की मदद करने का आरोप लगाया था.

    ऐसा माना जा रहा था कि दोनों नेताओं की बैठक में अमेरिकी कंपनियों पर रेंसमवेयर अटैक से लेकर विपक्ष के नेता को जहर देने और जेल में डालने समेत कई मुद्दे अहम होंगे. क्रेमलिन के सहयोगी ने मंगलवार को कहा कि परमाणु स्थिरता, जलवायु परिवर्तन और साइबर सिक्युरिटी इस शिखर सम्मेलन के प्रमुख मुद्दे होंगे. रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों देशों में जेल में बंद एक-दूसरे के नागरिकों को लेकर भी चर्चा हो सकती है. हालांकि, यह नहीं कहा जा सकता है कि दोनों देश किसी समझौते पर पहुंचेंगे या नहीं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.