Home /News /world /

sri lanka oppositions no confidence motion against president gotabaya failed in parliament

श्रीलंका: राष्‍ट्रपति गोटबाया के खिलाफ विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव, संसद में हुआ असफल

श्रीलंका के राष्‍ट्रपति गोटबाया राजपक्षे. (फाइल फोटो)

श्रीलंका के राष्‍ट्रपति गोटबाया राजपक्षे. (फाइल फोटो)

श्रीलंका (Sri Lanka ) के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के खिलाफ विपक्ष (Sri Lanka ) द्वारा पेश किया गया अविश्वास प्रस्ताव मंगलवार को संसद में असफल हो गया. 119 सांसदों ने इस प्रस्ताव के खिलाफ मतदान किया. केवल 68 सांसदों ने प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया जिससे यह अविश्वास प्रस्ताव असफल हो गया.

अधिक पढ़ें ...

कोलंबो .  श्रीलंका (Sri Lanka ) के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के खिलाफ विपक्ष (Sri Lanka ) द्वारा पेश किया गया अविश्वास प्रस्ताव (No Confidence Motion) मंगलवार को संसद में असफल हो गया. स्थानीय अखबार ‘इकोनॉमी नेक्स्ट’ की रिपोर्ट के मुताबिक, विपक्षी तमिल नेशनल एलायंस (टीएनए) के सांसद एम ए सुमंथिरन द्वारा राष्ट्रपति राजपक्षे को लेकर नाराजगी जताने वाले मसौदे पर बहस के लिए संसद के स्थायी आदेशों को निलंबित करने का प्रस्ताव पेश किया था. रिपोर्ट में बताया गया कि 119 सांसदों ने इस प्रस्ताव के खिलाफ मतदान किया. केवल 68 सांसदों ने प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया जिससे यह अविश्वास प्रस्ताव असफल हो गया.

रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रस्ताव के साथ विपक्ष ने यह दिखाने की कोशिश की कि राष्ट्रपति राजपक्षे के इस्तीफे की देशव्यापी मांग देश की विधायिका में कैसे परिलक्षित होती है. इधर, श्रीलंका के नवनियुक्त प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे (Ranil Wickremesinghe) ने सोमवार को टेलीविजन पर प्रसारित राष्ट्र के नाम अपने अपने संबोधन में कहा था कि उनका लक्ष्य किसी व्यक्ति, परिवार या समूह को नहीं बल्कि संकटग्रस्त देश को बचाना है. विक्रमसिंघे (73) ने कहा कि श्रीलंका की समुद्री सीमा में मौजूद पेट्रोल, कच्चे तेल, भट्ठी तेल की खेपों का भुगतान करने के लिए खुले बाजार से अमेरिकी डॉलर जुटाये जायेंगे.  अगले दो महीने सबसे कठिन हो सकते हैं.

संसद को और अधिक शक्तियां देने संवैधानिक संशोधन पेश करेंगे: राष्‍‍‍‍‍‍ट्रपति 

वहीं, राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने बुधवार को एक राष्ट्रव्यापी संबोधन में कहा था कि संविधान में 19वें संशोधन की सामग्री को अधिनियमित करने के लिए एक संवैधानिक संशोधन पेश किया जाएगा, जो संसद को और अधिक शक्तियां प्रदान करेगा. नई सरकार के प्रधान मंत्री को एक नया कार्यक्रम तैयार करने और इस देश को आगे ले जाने का अवसर प्रदान किया जाएगा. इधर विपक्षी दलों ने राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया और इसके बजाय उनके इस्तीफे की मांग की.

Tags: No Confidence Motion, Sri lanka

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर