• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • महामारी की पहली बड़ी लहर का सामना कर रहे एशिया के कई देशों में सख्त पाबंदियां

महामारी की पहली बड़ी लहर का सामना कर रहे एशिया के कई देशों में सख्त पाबंदियां

कोरोना महामारी के कारण कई देशोंं ने सख्‍त पाबंदियां लागू कीं.  (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना महामारी के कारण कई देशोंं ने सख्‍त पाबंदियां लागू कीं. (सांकेतिक तस्वीर)

कोविड-19 महामारी ( Coronavirus Epidemic) फैलने के करीब डेढ़ साल बाद पहली बड़ी लहर का सामना कर रहे एशिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र के आसपास के कई देशों ने शुक्रवार को सख्त पाबंदियां (Restrictions) लगाने का ऐलान किया. जापान और आस्ट्रेलिया ने भी इस हफ्ते सख्त पाबंदियों की घोषणा की. थाईलैंड में रिकार्ड संख्या में बृहस्पतिवार को 75 और शुक्रवार को 72 मरीजों की मौत हो गई. दक्षिण कोरिया में शुक्रवार को संक्रमण के 1,316 नये मामले सामने आए.

  • Share this:
    बैंकाक. कोविड-19 महामारी (Coronavirus Epidemic) फैलने के करीब डेढ़ साल बाद पहली बड़ी लहर का सामना कर रहे एशिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र के आसपास के कई देशों ने शुक्रवार को सख्त पाबंदियां (Restrictions) लगाने का ऐलान किया. हाल के महीनों में संक्रमण के मामलों में तीव्र वृद्धि का सामना करने के बाद अधिकारियों को उम्मीद है कि ये कदम स्वास्थ्य ढांचे पर अत्यधिक बोझ बढ़ने से पहले महामारी के प्रसार को धीमा कर देंगे.

    थाईलैंड में रिकार्ड संख्या में बृहस्पतिवार को 75 और शुक्रवार को 72 मरीजों की मौत हो गई. दक्षिण कोरिया में शुक्रवार को संक्रमण के 1,316 नये मामले सामने आए. पहली बार इंडोनेशिया में संक्रमण के मामलों में इतनी अधिक वृद्धि देखी गई है कि अस्पताल मरीजों को लौटा रहे हैं तथा ऑक्सीजन आपूर्ति कम पड़ रही है. थाईलैंड में महामारी शुरू होने के बाद से 317,506 मामलों की पुष्टि हुई है, जबकि 2,534 लोगों की मौत हुई है. इनमें से 90 प्रतशित से अधिक मौतें अप्रैल की शुरूआत से हुई हैं.

    ये भी पढ़ें :  अफगानिस्तान: तालिबान का दावा- ईरानी सीमा से सटे व्यापार के सबसे बड़े इलाके पर जमाया कब्जा

    संक्रमण के मामलों में हुई वृद्धि से निपटने के तौर तरीकों और अप्रैल में थाईलैंड नववर्ष मनाने के लिए लोगों को यात्रा की अनुमति देने के फैसले को लेकर प्रधानमंत्री प्रयुत्त चान ओचा की व्यापक आलोचना हुई है. थाईलैंड में कोविड के प्रसार को रोकने के लिए मास्क पहनने जैसी सख्त पाबंदियां पहले से लागू हैं. लेकिन सरकार ने शुक्रवार को कहीं अधिक सख्त पाबंदियों की घोषणा की, जिनमें स्पा को बंद करना, बाजारों के खुलने के समय में कटौती करना आदि शामिल हैं.

    ये भी पढ़ें :  रोजाना 17 मिनट मोबाइल इस्तेमाल करने से हो सकता है कैंसर, वैज्ञानिकों ने चेताया

    महामारी से शुरूआत में निपटने के तौर तरीकों और इसमें मिली कामयाबी को लेकर दक्षिण कोरिया की व्यापक सराहना की गई थी. लेकिन अब संक्रमण के मामलों में वृद्धि होने के लिए सामाजिक दूरी के नियमों में ढील देने पर सरकार के जोर देने की आलेाचना की जा रही है. इस बीच, टीके की आपूर्ति में कमी के कारण 70 प्रतिशत आबादी अब भी पहली खुराक का इंतजार कर रही है. जापान और आस्ट्रेलिया ने भी इस हफ्ते सख्त पाबंदियों की घोषणा की. क्षेत्र में कोई भी देश इंडोनेशिया से अधिक प्रभावित नहीं हुआ है. सात दिनों में प्रतिदिन के औसतन मामले एवं मौतें इससे पहले के दो हफ्तों की तुलना में दोगुनी रही हैं.

    वहीं, पड़ोसी देश मलेशिया में सख्त राष्ट्रीय लॉकडाउन लागू है, जिसके चलते लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं और सिर्फ हर घर से सिर्फ एक व्यक्ति को खाने-पीने का जरूरी सामान खरीदने के लिए घर से बाहर निकलने की अनुमति है. वियतनाम ने भी शुक्रवार को सख्त पाबंदियां लागू की. देश के सबसे बड़े शहर हो ची मिन्ह सिटी को दो हफ्तों के लिए बंद कर दिया गया है. क्षेत्र में अपवाद के रूप में भारत ही एकमात्र देश है क्योंकि वहां महामारी की लहर पहले आ गई थी. देश अप्रैल और मई में महामारी की भयावह स्थिति का सामना करने के बाद अब उबर रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज