Home /News /world /

काबुल एयरपोर्ट पर तालिबान ने महिलाओं-बच्चों पर किया हमला, डराती हैं ये तस्वीरें

काबुल एयरपोर्ट पर तालिबान ने महिलाओं-बच्चों पर किया हमला, डराती हैं ये तस्वीरें

काबुल में महिलाओं पर हिंसा की कई घटनाएं हुई हैं (AP)

काबुल में महिलाओं पर हिंसा की कई घटनाएं हुई हैं (AP)

Afghanistan Taliban Crisis: लॉस एंजिलिस टाइम्स के रिपोर्टर मार्कस यैम ने ट्विटर पर कुछ तस्वीरें ट्वीट की हैं और दावा किया है कि तालिबानियों के हमले में कई लोग घायल हुए हैं.

    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान (Taliban) के लौटने से लोग बेहद मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं. तालिबान ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में दुनिया के सामने महिलाओं को सुरक्षा देने का वादा किया था. लेकिन 24 घंटे के अंदर तालिबान इससे मुकर गया. तालिबान के लड़ाकों ने बुधवार को काबुल एयरपोर्ट (Kabul Airport) पर महिलाओं और बच्चों पर हमले किए.

    काबुल से सामने आई तस्वीरों में साफ दिख रहा है कि तालिबानियों ने देश छोड़ने के इरादे से हवाईअड्डे आने वाली महिलाओं और बच्चों पर नुकीले-धारदार हथियारों से वार किया. तालिबानी लड़ाकों ने एयरपोर्ट से भीड़ को वापस भेजने के लिए फायरिंग भी की.

    अफगानिस्तानः तालिबान ने सलीमा मजारी को पकड़ा, अपनी सेना बना रहीं थीं पहली महिला गवर्नर

    लॉस एंजिलिस टाइम्स के रिपोर्टर मार्कस यैम ने ट्विटर पर कुछ तस्वीरें ट्वीट की हैं और दावा किया है कि तालिबानियों के हमले में कई लोग घायल हुए हैं.

    फॉक्स न्यूज ने एक वीडियो जारी कर यह दावा किया है कि तालिबान लड़ाके काबुल और अन्य जगहों की सड़कों पर घूम रहे हैं और पूर्व-सरकारी कर्मचारियों की तलाश में जुटे हैं. इस दौरान वे कई जगह फायरिंग भी कर रहे हैं. चैनल ने यह भी दावा किया है कि तालिबान ने तखर प्रांत में मंगलवार को एक महिला को सिर्फ इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि वह घर से बाहर बिना सिर ढके दिखी थी.

    मुस्लिम बोर्ड ने तालिबान के कब्जे को बताया जायज, कहा-आपको हिंदुस्तानी मुसलमान का सलाम

    तालिबान ने मंगलवार को ही महिलाओं को शर्तों के साथ सरकारी नौकरी, निजी सेक्टर एवं अन्य रोजगारों में काम करने की अनुमति दी है. तालिबान का कहना है कि महिलाएं कामकाज के लिए निकल सकती हैं, लेकिन उन्हें शरीयत के नियमों का पूरा पालन करना ही होगा. लेकिन इसके कुछ देर बाद ही तालिबान ने अफगानिस्तान के सरकारी टीवी से महिला एंकर को हटा दिया और उसकी जगह पर तालिबान प्रवक्ता को न्यूज़ पढ़ने का काम दे दिया.

    ऐसे में तालिबान के दो-तरफा चेहरे से सब डरे हुए हैं. लिहाजा अफगानी किसी भी तरह देश छोड़कर जाना चाहते हैं.

    Tags: Afghanistan Taliban conflict

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर