• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • तालिबान ने दिए दोस्ती के संकेत, कहा- भारत को पाकिस्तान की नज़र से नहीं देखते

तालिबान ने दिए दोस्ती के संकेत, कहा- भारत को पाकिस्तान की नज़र से नहीं देखते

तालिबान ने अफगानिस्तान के 90 फीसदी इलाके पर कब्जा करने का दावा किया है (AP)

तालिबान ने अफगानिस्तान के 90 फीसदी इलाके पर कब्जा करने का दावा किया है (AP)

अमेरिकी सैनिकों (US Army) के वापसी के बाद से तालिबान (Taliban) अफगानिस्तान (Afghanistan) में आतंक मचा रहा है. उसने मुल्क के कई अहम इलाकों पर कब्जा जमा लिया है. तालिबान के बढ़ते कदमों से भारत (India) भी चिंतित है, क्योंकि उसने बड़े पैमाने पर अफगानिस्तान में निवेश किया है.

  • Share this:

    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) में आतंक मचा रहे तालिबान (Taliban) ने भारत (India) से दोस्ती के संकेत दिए हैं. तालिबान ने कहा है कि वह भारत को पाकिस्तान की नजरों से नहीं देखता है. अफगानिस्तान में भारत सहित किसी भी देश के इकोनॉमिक प्रोजेक्ट्स को कोई खतरा नहीं है. हालांकि, इसके लिए तालिबान ने एक शर्त भी रखी है. आतंकी संगठन का कहना है कि अगर भारत अशरफ गनी सरकार (Ashraf Ghani-led Government) की ओर से की जा रही गोलीबारी का समर्थन बंद कर देता है, तो उसके प्रोजेक्ट्स को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा.

    यह पहली बार है जब तालिबान ने कथित तौर पर भारत से समझौते की बात कही है. ‘दी ट्रिब्यून’ ने अपनी रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया है कि तालिबान प्रतिनिधिमंडल ईरान, रूस और चीन जैसे देशों से बातचीत कर रहा है और कुछ हद तक इसी तरह के प्रस्ताव सौंप रहा है.

    काबुल का ग्रीन जोन कई शक्तिशाली विस्फोटों से दहला, अफगानिस्तान ने भारत से लगाई गुहार

    तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद (Zabiullah Mujahid) ही संगठन के संदेशों को अंतरराष्ट्रीय मीडिया तक पहुंचाता है. उसने एक इंटरव्यू में कहा है, ‘हम किसी भी देश की आर्थिक परियोजनाओं को लेकर धमकी नहीं दे रहे और न ही विरोध कर रहे हैं. हम अफगानिस्तान में निवेश करने वाले देशों के पक्ष में हैं. हमने कुछ दिन पहले चीन की यात्रा की थी. चीन से हमारी मुख्य मांगों में से एक यह थी कि वे अफगानिस्तान के साथ व्यापार और निवेश में सहयोग करे’.

    भारत से अच्छे संबंधों की चाहत
    इंटरव्यू में जबीउल्लाह ने इस बात से इनकार किया कि तालिबान भारत को पाकिस्तान के चश्मे से देखता है. जबीउल्लाह ने कहा कि तालिबान इस क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण देश के रूप में भारत के साथ अच्छे संबंध चाहता है.

    अफगानिस्तानः रक्षा मंत्री के घर के बाहर आत्मघाती हमला, 8 लोगों की मौत

    बता दें कि अमेरिकी सैनिकों के वापसी के बाद से तालिबान अफगानिस्तान में आतंक मचा रहा है. उसने मुल्क के कई अहम इलाकों पर कब्जा जमा लिया है. तालिबान के बढ़ते कदमों से भारत भी चिंतित है, क्योंकि उसने बड़े पैमाने पर अफगानिस्तान में निवेश किया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज