Home /News /world /

तालिबान को लेकर UN के बदले सुर! बरादर से मुलाकात के बाद अधिकारी ने कहा- जारी रखेंगे समर्थन

तालिबान को लेकर UN के बदले सुर! बरादर से मुलाकात के बाद अधिकारी ने कहा- जारी रखेंगे समर्थन

संयुक्त राष्ट्र के अवर महासचिव मार्टिन ग्रिफिथ्स के साथ तालिबानी नेता (AP)

संयुक्त राष्ट्र के अवर महासचिव मार्टिन ग्रिफिथ्स के साथ तालिबानी नेता (AP)

तालिबान (Taliban) के मुल्ला बरादर (Mulla Baradar) ने रविवार को काबुल में विदेश मंत्रालय में मानवीय मामलों के लिए संयुक्त राष्ट्र (United Nations) के अवर महासचिव मार्टिन ग्रिफिथ्स (Martin Griffiths) से मुलाकात की. मुलाकात के बाद तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद नईम ने ट्वीट कर कहा कि मार्टिन ग्रिफिथ्स ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र अफगानिस्तान के साथ अपना समर्थन और सहयोग जारी रखेगा.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    काबुल. अफगानिस्तान (Afghanistan) के पंजशीर में रेजिस्टेंस फोर्स (अहमद मसूद का गुट) और तालिबान (Taliban) के बीच जंग जारी है, लेकिन अब नेशनल रेजिस्टेंस फोर्स (NRF) कमजोर पड़ती जा रही है. टोलो न्यूज़ की जानकारी के मुताबिक, एनआरएफ चीफ अहमद मसूद ने तालिबान के सामने जंग खत्म करने का प्रस्ताव रखा है. इसके लिए उन्होंने पंजशीर और अंदराब में तालिबानी हमले रोकने की शर्त रखी है. इस बीच यूनाइटेड नेशंस ने भी अफगानिस्तान को समर्थन जारी रखने का ऐलान किया है.

    तालिबान के साथ शांति वार्ता के लिए पंजशीर तैयार, आपसी सहमति से सुलझाना चाहता है मामला

    दरअसल, तालिबान सरकार के गठन से पहले तालिबान के मुल्ला बरादर (Mulla Baradar) ने रविवार को काबुल में विदेश मंत्रालय में मानवीय मामलों के लिए संयुक्त राष्ट्र के अवर महासचिव मार्टिन ग्रिफिथ्स (Martin Griffiths) से मुलाकात की. मुलाकात के बाद तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद नईम ने ट्वीट कर कहा कि मार्टिन ग्रिफिथ्स ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र अफगानिस्तान के साथ अपना समर्थन और सहयोग जारी रखेगा.

    मार्टिन ग्रिफिथ्स क्या बोले?
    वहीं, मार्टिन ग्रिफिथ्स ने ट्वीट कर कहा कि अफगानिस्तान में लाखों जरूरतमंदों को निष्पक्ष मानवीय सहायता और सुरक्षा प्रदान करने के लिए संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबद्धता की पुष्टि करने के लिए मैं तालिबान के नेतृत्व से मिला.

    नई सरकार के गठन को अगले हफ्ते तक टाला
    वहीं, तालिबान ने अफगानिस्तान में नई सरकार के गठन को अगले हफ्ते के लिए टाल दिया है. चरमपंथी संगठन के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने शनिवार को इसकी जानकारी दी. इसके पीछे की वजह तालिबान द्वारा एक व्यापक और समावेशी सरकार को आकार देने में कठिनाई का सामना करना है. तालिबान एक ऐसी सरकार का गठन करना चाहता है, जिसे अंतरराष्ट्रीय समुदाय मान्यता दे सके.

    क्या तालिबान के नेता मुल्ला बरादर के पास है पाकिस्तान का पासपोर्ट? वायरल हो रही है ये फोटो

    तालिबान के शनिवार को काबुल में नई सरकार के गठन की घोषणा करने की उम्मीद थी. माना जा रहा है कि इस सरकार का नेतृत्व संगठन के सह-संस्थापक मुल्ला अब्दुल गनी बरादर के हाथों में होगा. ये दूसरा मौका है जब तालिबान ने 15 अगस्त को काबुल पर कब्जा करने के बाद से काबुल में नई सरकार के गठन को टाल दिया है. मुजाहिद ने इस मामले को लेकर अधिक जानकारी दिए बिना कहा कि नई सरकार और कैबिनेट सदस्यों के बारे में घोषणा अब अगले सप्ताह की जाएगी. (एजेंसी इनपुट के साथ)

    Tags: Afghanistan Crisis, Afghanistan Taliban conflict, NRF, United nations

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर