होम /न्यूज /दुनिया /यूक्रेन में रूस के कब्जे वाले इलाकों में 5 दिन चला 'जनमत संग्रह' चुनाव का आज अंतिम दिन! जानें कैसा रहा मतदान?

यूक्रेन में रूस के कब्जे वाले इलाकों में 5 दिन चला 'जनमत संग्रह' चुनाव का आज अंतिम दिन! जानें कैसा रहा मतदान?

रूसी नियंत्रण वाले क्षेत्रों के लोग रूस में शामिल होना चाहते हैं या नहीं, इस मुद्दे को लेकर चला यह मतदान ( PC- Reuters.com)

रूसी नियंत्रण वाले क्षेत्रों के लोग रूस में शामिल होना चाहते हैं या नहीं, इस मुद्दे को लेकर चला यह मतदान ( PC- Reuters.com)

'जनमत संग्रह' (District Collection) के लिहाज से हो रहे चुनाव (Election) का आज अंतिम दिन है. आशा की जा रही है कि इस चुना ...अधिक पढ़ें

  • AP
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

यूक्रेन में रूस के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में जनमत संग्रह के लिहाज से हो रहे चुनाव का आज अंतिम दिन
रूस के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में यूक्रेन की बढ़त को रोकने के लिए रूस परमाणु हथियार का उपयोग करने को तैयार है
राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन इस सप्ताह के अंत में उन क्षेत्रों को देश में शामिल किए जाने की घोषणा करेंगे

कीव: यूक्रेन (Ukraine) में रूस (russia) के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में ‘जनमत संग्रह’ (District Collection) के लिहाज से हो रहे चुनाव (Election) का आज अंतिम दिन है. आशा की जा रही है कि इस चुनाव के तहत हो रहा जनमत संग्रह नियंत्रण वाले क्षेत्रों को रूस में शामिल होने की भूमिका साबित होगा. हालांकि यूक्रेन और उसके पश्चिमी सहयोगियों ने इस पूरी कवायद को दिखावा बताते हुए नकार दिया है.

मतदान के अंतिम दौर में क्रेमलिन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बेहद रूखे शब्दों में चेतावनी जारी की है कि रूस के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में यूक्रेन की बढ़त को रोकने के लिए रूस परमाणु हथियार का उपयोग करने को तैयार है.

UN में भारत की मुहिम को फिर मिला मित्र देश रूस का साथ, जानें ताजा डेवलपमेंट

रूसी नियंत्रण वाले क्षेत्रों के लोग रूस में शामिल होना चाहते हैं या नहीं, इस मुद्दे को लेकर पांच दिन चला यह मतदान, कैसा भी रहा हो लेकिन निष्पक्ष और स्वतंत्र बिल्कुल नहीं था. युद्ध के कारण क्षेत्र से हजारों की संख्या में लोग पलायन कर गए हैं और साझा की गई तस्वीरों में देखा जा सकता है कि रूसी सेना के सशस्त्र सैनिक घर-घर जाकर यूक्रेनी नागरिकों पर वोट डालने के लिए दबाव बना रहे हैं. देश में मंगलवार को मतदान, मतदान केन्द्रों पर हुआ.

आशा की जा रही है कि क्रेमलिन जल्दी ही रूसी नियंत्रण वाले क्षेत्रों को अपनी सीमा में शामिल करने की कार्रवाई करेगा और संभावना है कि राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन इस सप्ताह के अंत में उन क्षेत्रों को देश में शामिल किए जाने की घोषणा करेंगे.

वहीं, रूसी मीडिया भी अटकलें लगा रही है कि पुतिन मार्शल कानून लागू करके कुछ हद तक सेना की तैनाती करेंगे और सीमाओं को उन सभी लोगों के लिए बंद कर दिया जाएगा जिनकी आयु युद्ध में भाग लेने योग्य है.

Tags: Election, Russia, Russia ukraine war, Ukraine

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें