श्रीलंका की नई संसद का सत्र 20 अगस्त को, राष्ट्रपति करेंगे अपनी सरकार की नीति पेश

श्रीलंका की नई संसद का सत्र 20 अगस्त को, राष्ट्रपति करेंगे अपनी सरकार की नीति पेश
राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे (फाइल फोटो)

श्रीलंका में 20 अगस्त को होने वाले उद्घाटन सत्र में राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे (Gotbaya Rajapaksa) अगले पांच वर्षों के लिए अपनी सरकार का नीतिगत बयान पेश करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 16, 2020, 10:14 PM IST
  • Share this:
कोलंबो. श्रीलंका (Srilanka) की नई संसद का उद्घाटन सत्र 20 अगस्त को होगा, जिस दौरान राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे (Gotabaya Rajapaksa) अगले पांच वर्षों के लिए अपनी सरकार की नीति पेश करेंगे. यह घोषणा रविवार को की गई. एक बयान में कहा गया है, 'संसद के महासचिव डी दसानायके ने सभी सांसदों को सूचित कर दिया है कि वे नौवीं संसद की पहली बैठक में शामिल हों. यह 20 अगस्त 2020 को सुबह साढ़े नौ बजे से शुरू होगी.'

प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे नीत श्रीलंका पीपुल्स पार्टी (एसएलपीपी) ने गत पांच अगस्त हो हुए आम चुनाव में जबर्दस्त जीत हासिल की थी. पार्टी ने 225 सदस्यीय संसद में दो तिहाही बहुमत हासिल किया है. एसएलपीपी सरकार के सदन में 150 सदस्य हैं, जबकि संयुक्त विपक्ष के 75 सदस्य हैं. उद्घाटन सत्र में राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे अगले पांच वर्षों के लिए अपनी सरकार का नीतिगत बयान पेश करेंगे. राष्ट्रपति संसद के सदस्य नहीं हैं, लेकिन उन्हें सत्र में हिस्सा लेने की संवैधानिक तौर पर अनुमति है.

ये भी पढ़ें: चीन पर फूटा मलेशिया का गुस्सा, साउथ चाइना सी पर ड्रैगन के दावे को किया खारिज



75 सदस्य नए
अधिकारियों ने बताया कि 225 निर्वाचित सदस्यों में से 75 नए हैं. महिलाओं का प्रतिनिधित्व वर्तमान में कम होकर 10 हो गया है, जो कि पिछली संसद में 13 था. संसद का उद्घाटन सत्र पहले 14 मई से होना था. हालांकि, चुनाव को कोविड-19 के चलते दो बार टालना पड़ा. यह सत्र सख्त कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुपालन के साथ होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज