लगातार तीसरे दिन थरथराया न्यूजीलैंड, नॉर्थ आईलैंड पर आया 6.4 तीव्रता का भूकंप

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में भी मंगलवार को भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे.

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में भी मंगलवार को भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे.

Earthquakes in New zealand: शविनार को भी न्यूजीलैंड का नॉर्थ रॉक आईलैंड (North Rock Island) 6.4 तीव्रता भूकंप के साथ थरथराया है. हालांकि, इन भूकंपों के चलते जनहानि की खबरें नहीं हैं. इन भूकंपों को लेकर सुनामी का अलर्ट भी जारी किया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 6, 2021, 12:09 PM IST
  • Share this:
वेलिंगटन. न्यूजीलैंड (New Zealand) के नॉर्थ आईलैंड में भूकंप (Earthquake) के झटके शनिवार को भी जारी रहे. यूएस जियोलॉजिकल सर्वे (US Geological Survey) ने 6.4 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया है. दक्षिण प्रशांत क्षेत्र में शक्तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए जाने के बाद महासागर में सुनामी के खतरे का अलर्ट जारी किया गया था. हालांकि, बाद में राष्ट्रीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी (एनईएमए) ने खतरा टलने की बात कही है. खास बात है कि बीते शुक्रवार से ही देश के कुछ हिस्सों में भूकंप के झटके जारी हैं.

शविनार को भी न्यूजीलैंड का नॉर्थ रॉक आईलैंड 6.4 तीव्रता भूकंप के साथ थरथराया है. हालांकि, इन भूकंपों के चलते जनहानि की खबरें नहीं हैं. न्यूजीलैंड के उत्तरी-पूर्वी तट पर गुरुवार को एक शक्तिशाली भूकंप आया था, जिसको लेकर अधिकारियों ने सुनामी के खतरे की चेतावनी दी थी. भूकंप की तीव्रता 7.3 मापी गई थी. एजेंसी ने तट के पास रहने वाले लोगों को सलाह दी कि अगर वे तेज या लंबे समय तक झटकों को महसूस करते हैं तो वे तुरंत ऊंचे मैदानी क्षेत्रों में चले जाएं.

यह भी पढ़ें: भूकंप के तेज झटके से हिला न्यूजीलैंड, जारी किया गया सुनामी का अलर्ट



‘अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण’ ने कहा कि प्रारंभिक तौर पर भूकंप की तीव्रता 6.9 मापी गई है और जिसका केंद्र जिस्बॉर्न शहर से लगभग 178 किलोमीटर (111 मील) दूर 10 किलोमीटर (छह मील) की गहराई में स्थित था. न्यूजीलैंड से एक हजार किलोमीटर दूर केरमाडेक द्वीप समूह पर लगातार कई भूकंप के झटके महसूस किए गए.

इस दौरान 8.1 तीव्रता का सबसे शक्तिशाली भूकंप आया था. इसके अलावा 7.4 और 7.3 तीव्रता के भूकंप के झटके भी महसूस किए गए थे. सुनामी के खतरे के मद्देनजर न्यूजीलैंड में कई जगह सड़कों पर जाम लग गया था और अफरातफरी की स्थिति भी उत्पन्न हो गई थी, क्योंकि अधिकतर लोग ऊंचाई वाले स्थानों की ओर जाने की कोशिश कर रहे थे.

(एजेंसी इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज