लाइव टीवी

ऑस्ट्रेलिया में मैगपाई पक्षी के हमले से एक व्यक्ति की मौत

भाषा
Updated: September 17, 2019, 1:03 PM IST
ऑस्ट्रेलिया में मैगपाई पक्षी के हमले से एक व्यक्ति की मौत
बसंत ऋतु में होते हैं मैगपाई आक्रामक

ऑस्ट्रेलिया (Australia) में 76 वर्ष की आयु वाले एक साइकिल सवार की मैगपाई (Magpie) नामक पक्षी के हमले (Attack) से मौत हो गई.

  • भाषा
  • Last Updated: September 17, 2019, 1:03 PM IST
  • Share this:
मेलबर्न. ऑस्ट्रेलिया (Australia) में 76 साल के एक साइकिल सवार की मैगपाई (Magpie) नामक पक्षी के हमले (Attack) से मौत हो गई. पुलिस ने बताया कि रविवार को सिर में गंभीर चोट लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई. मैगपाई ऑस्ट्रेलिया में पाई जाने वाली पक्षी है, जो वसंत ऋतु में प्रजनन के मौसम में आक्रामक हो जाती हैं. साइकिल चालकों को इन पक्षियों से खास खतरा रहता है.

मैगपाई कैसे करते हैं हमला
ऑस्ट्रेलिया के अधिकांश मूल वन्यजीवों घातक सांपों, मकड़ियों और जेलिफ़िश की तरह ही सितंबर का महीना मैगपाई के प्रजनन का मौसम है. इस दौरान अपने घोंसले को बचाने के लिए नर मैगपाई लोगों पर झपट्टा मार कर हमला करने के काफी कुख्यात हैं. ये अपनी अपनी चोंच या पंजों से मारते हैं. खासकर इन्हें आंखो को चोट पहुंचाने के लिए जाना जाता है.

कैसे हुई मौत

'ऑस्ट्रेलियन ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन' की खबर के अनुसार साइकिल चालक को रविवार को उस समय सिर में चोट लगी, जब वह एक जगह रास्ता भटक गए और उनकी साइकिल वूकोना के निकोलसन पार्क की एक बाड़ से जा टकराई. पुलिस ने कहा कि उन्हें जमीन पर गिरा दिया गया और उनके सिर पर गंभीर चोट लग गई. उन्हें सिडनी के सेंट जॉर्ज अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां शाम के समय उनकी मौत हो गई.

वह पार्क के आसपास साइकिल चला रहे थे. स्थानीय लोगों को का कहना है कि वहां आक्रामक मैगपाई पहले भी कई बार हमला कर चुकी हैं. मैगपाई के हमलों पर नजर रखने वाली एक वेबसाइट ने भी उस इलाके में मैगपाई के हमले की आठ घटनाएं होने की बात कही है. हिल्स शायर काउंसिल ने एक बयान में कहा कि यह पक्षी बहुत आक्रामक और अस्वाभाविक प्रकृति के होते हैं.

ये भी पढ़ें: धरती से 26 करोड़ साल पहले भी बड़े पैमाने पर विलुप्त हुए थे जीव: अध्ययन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 17, 2019, 12:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...