होम /न्यूज /दुनिया /ताइवान ने चीन को ललकाराः कहा-सैन्य अभ्यास का बहाना तलाश रहा चीन लेकिन उसमें क्षमता नहीं

ताइवान ने चीन को ललकाराः कहा-सैन्य अभ्यास का बहाना तलाश रहा चीन लेकिन उसमें क्षमता नहीं

ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि चीन हमें यह नहीं कह सकता है कि हमारे देश में किसे आना चाहिए और किसे नहीं. ANI

ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि चीन हमें यह नहीं कह सकता है कि हमारे देश में किसे आना चाहिए और किसे नहीं. ANI

Taiwan minister takes on China: ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने चीन को दो टूक कहा है कि वह सैन्य अभ्यास का बहाना तला ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

चीन के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा चीन सिर्फ बहाना तलाश रहा
जोसेफ वू ने कहा कि इतने कम समय में चीन के पास ड्रोन और साइबर हमले की क्षमता नहीं
ताइवान ने भी आज से सैन्य अभ्यास की शुरुआत की है

ताइपेई. ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि चीन सैन्य अभ्यास का बहाना तलाश रहा है. इस बार उसने अमेरिकी सीनेट की स्पीकर नैंसी पेलोसी की यात्रा को बहाना बनाया है. वू ने चीन को ललकारते हुए कहा है कि बेशक चीन सैन्य अभ्यास का बहाना तलाश रहा है लेकिन वह इतने कम समय में ड्रोन, साइबर हमले और भ्रामक जानकारी फैलाने की क्षमता नहीं रखता. वू ने कहा कि इस शासन से निपटने का सबसे बढ़िया तरीका यह है कि वह हमें बेशक डराने की कोशिश करें लेकिन हम इससे डरने वाले नहीं है. वू ने कहा कि ताइवान के चारो और मिलिट्री एक्सरसाइज कर चीन ने अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन किया है और दुनिया के सबसे व्यस्त शिपिंग मार्गों में से एक को बाधित कर दिया है.

गौरतलब है कि 2 अगस्त को अमेरिकी सीनेट की स्पीकर नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा के एक दिन बाद 4 अगस्त से चीन ने ताइवान के चारों ओर सैन्य अभ्यास किया था. अब इसके जवाब में मंगलवार को ताइवान ने भी लाइव-फायर आर्टिलरी ड्रिल की शुरुआत की है. चीन ने इसी तरह की ड्रिल कुछ दिन पहले की थी. चीन के हमले के खिलाफ रक्षात्मक उपायों और चीन के किसी भी दुः साहस का जवाब देने के लिए ताइवान ने यह कदम उठाया है.  चीन ने ताइवान और चीन को विभाजित करने वाली रेखा मीडियन लाइन को भी पार किया था. यहां तक कि उसने जापान की ओर भी बैलेस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था. रिपोर्ट के मुताबिक ताइवान ने आज से ही यह ड्रिल शुरू की है.

नैंसी पेलोसी की यात्रा के बाद चीन ने ताइवान पर कई तरह के प्रतिबंध लगा दिया है. चीन ने पहले ही ताइवान से आने वाले फल, मछलियां और दूसरे खाद्य के आयात पर बैन लगा दिया था. इसके बाद आयात किए जाने वाले 100 से अधिक फूड प्रोडक्ट पर रोक लगा दी. ताइवान ने इसका बदला लिया है. उसने बड़े स्तर पर चीन से आयात होने वाले कंस्ट्रक्शन से जुड़े मैटेरियल के आयात पर पाबंदी लगा दी है.

Tags: America, China, Taiwan

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें