Home /News /world /

तालिबान ने हेरात के 'शेर' और भारत दोस्त इस्माइल खान को पकड़ा, जानें कौन है यह बुजुर्ग कमांडर

तालिबान ने हेरात के 'शेर' और भारत दोस्त इस्माइल खान को पकड़ा, जानें कौन है यह बुजुर्ग कमांडर

तालिबान ने मिलिशिया कमांडर इस्‍माइल खान को पकड़ा.  (File Pic)

तालिबान ने मिलिशिया कमांडर इस्‍माइल खान को पकड़ा. (File Pic)

इस्‍माइल खान के भारत से भी अच्‍छे संबंध रहे हैं और उन्‍हें अफगानिस्‍तान में भारत का बेहद करीबी माना जाता है. हेरात में भारत की मदद से तैयार किए गए सलमा बांध के निर्माण में इस्‍माइल ने अहम भूमिका निभाई थी.

    हेरात. तालिबान (Taliban) तेजी से अफगानिस्‍तान (Afghanistan) पर अपनी पैठ बना रहा है. अमेरिकी सैनिकों (American Soldiers) की वापसी के बाद तालिबान ने अफगानिस्‍तान पर तेजी से हमला करना शुरू कर दिया है और कई राज्‍यों पर अपना कब्‍जा जमा लिया है. खबर है कि तालिबान के लड़ाकों ने अफगानिस्‍तान के तीसरे सबसे बड़े शहर हेरात पर भी अपनी पकड़ मजबूत कर ली है.

    इस बीच खबर आई है कि तालिबानी लड़ाकों ने मिलिशिया प्रतिरोध का नेतृत्‍व करने वाले कमांडर इस्‍माइल खान को पकड़ लिया है. इस्‍माइल खान के साथ ही अफगानिस्‍तान के उपगृहमंत्री जनरल रहमान और कई आला अधिकारी भी इस समय तालिबान लड़कों की कैद में हैं.

    इसे भी पढ़ें :- अफगानिस्तान पर हो गया तालिबान का कब्जा तो कौन होगा नेता, कैसे चलेगी सरकार?

    बता दें कि इस्‍माइल खान, हेरात का सबसे प्रमुख मिलिशिया कमांडर है और हेरात प्रांत के गर्वनर रह चुके हैं. इस्‍माइल ने तालिबान को अफगानिस्‍तान से दूर रखने में अपनी अहम भूमिका निभाई है. इस कारण उन्हें हेरात का शेर भी कहा जाता है. इस्‍माइल खान के भारत से भी अच्‍छे संबंध रहे हैं और उन्‍हें अफगानिस्‍तान में भारत का बेहद करीबी माना जाता है. हेरात में भारत की मदद से तैयार किए गए सलमा बांध के निर्माण में इस्‍माइल ने अहम भूमिका निभाई थी. इसके साथ ही अमेरिकी सेना के बीच इस्‍माइल की काफी अच्‍छी पकड़ रही है.

    इसे भी पढ़ें :- तालिबान की भारत को खुली चेतावनी- ‘अफगानिस्तान में सेना भेजी तो अच्छा नहीं होगा’

    प्रांतीय परिषद के सदस्य गुलाम हबीब हाशिमी ने समाचार एजेंसी रॉयटर को बताया कि अफगानिस्‍तान में लॉयन ऑफ हेरात के नाम से मशहूर मिलिशिया कमांडर इस्‍माइल खान को तालिबान के लड़ाकों ने पकड़ लिया है. उन्‍होंने बताया कि तालिबान ने साफ कर दिया है कि जो भी सरकारी अधिकारी खुद से आत्‍मसमर्पण कर देंगे, उन्‍हें वह किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचाएंगे.

    Tags: Afghanistan, Taliban

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर