होम /न्यूज /दुनिया /

तालिबानी मौलवी शेख रहीमुल्ला हक्कानी की मौत, आत्मघाती हमलावर ने नकली टांग में छुपाकर रखा था विस्फोटक

तालिबानी मौलवी शेख रहीमुल्ला हक्कानी की मौत, आत्मघाती हमलावर ने नकली टांग में छुपाकर रखा था विस्फोटक

किसी भी संगठन ने अभी इस विस्फोट की जिम्मेदारी नहीं ली है. (फाइल फोटो)

किसी भी संगठन ने अभी इस विस्फोट की जिम्मेदारी नहीं ली है. (फाइल फोटो)

Sheikh Rahimullah Haqqani Death, Kabul Blast, Afghanistan: विस्फोट की यह घटना काबुल के एक मदरसे में हुई. रिपोर्ट के अनुसार ये एक आत्मघाती हमला था जिसमें शेख रहीमुल्ला हक्कानी की मौत हो गई है. बताया जा रहा है कि जो आत्मघाती हमलावर था वह कृत्रिम पैर लगाए हुए था और उसी में वह विस्फोटक रखे हुए था.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

मौलवी रहीमुल्ला हक्कानी को अफगानिस्तान के वर्तमान गृहमंत्री सिराजुद्दीन हक्कानी का वैचारिक गुरु माना जाता है.
रहीमुल्ला तालिबान का इस्लामी विद्वान होने के साथ साथ आतंकी विचारधारा का भी कट्टर समर्थक था.
किसी भी संगठन की तरफ से इस आत्मघाती विस्फोट की जिम्मेदारी नहीं ली गई है.

नई दिल्ली: अफगानिस्तान (Afghanistan) की राजधानी काबुल (Kabul) से एक बड़ी खबर सामने आई है. राजधानी के एक जिले में गुरुवार को एक विस्फोट में तालिबान के प्रमुख धार्मिक मौलवी शेख रहीमुल्ला हक्कानी (Sheikh Rahimullah Haqqani) की मौत हो गई है. रहीमुल्ला तालिबान का इस्लामी विद्वान होने के साथ साथ आतंकी विचारधारा का भी कट्टर समर्थक था.

टोलो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार हक्कानी की मौत की पुष्टि इस्लामिक अमीरात के उप प्रवक्ता बिलाल करीमी ने की है. हक्कानी की मौत एक आत्मघाती विस्फोट में हुई. फिलहाल पुलिस ने इस विस्फोट के मामले की जांच शुरू कर दी है.

टोलो न्यूज के एक ट्वीट में कहा गया है कि धार्मिक विद्वानों में गिने जाने वाले शेख रहीमुल्ला हक्कानी की काबुल के स्कूल में हुए विस्फोट में मौत हो गई है. इस्लामिक अमीरार के उप प्रवक्ता बिलाल करीमी ने शेख रहीमुल्ला हक्कानी की मौत की पुष्टि की है.

मौलवी रहीमुल्ला हक्कानी को अफगानिस्तान के वर्तमान गृहमंत्री सिराजुद्दीन हक्कानी का वैचारिक गुरु माना जाता है. रहीमुल्ला सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहता था. एक सोशल मीडिया अकाउंट पर उसके लाखों की संख्या में फॉलोअर्स भी हैं.

विस्फोट की यह घटना काबुल के एक मदरसे में हुई. रिपोर्ट के अनुसार ये एक आत्मघाती हमला था जिसमें शेख रहीमुल्ला हक्कानी की मौत हो गई है. बताया जा रहा है कि जो आत्मघाती हमलावर था वह कृत्रिम पैर लगाए हुए था और उसी में वह विस्फोटक रखे हुए था. उसने डेटोनेदर की मदद से विस्फोट की घटना को अंजाम दिया.

बता दें कि पिछले 15 दिन में यह दूसरी बार काबुल में विस्फोट की घटना सामने आई है. हालांकि अभी यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हो सका है कि इस आत्मघाती हमले के पीछे कौन है. किसी भी संगठन ने अभी इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है.

Tags: Afghanistan, Kabul Blast, Taliban, World news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर