जंग में अब तक 59 की मौत, इजरायल ने कहा- दुश्‍मन को अब शांत करके ही रहेंगे

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच जारी जंग में अब तक 59 नागरिकों की हो चुकी है मौत.

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच जारी जंग में अब तक 59 नागरिकों की हो चुकी है मौत.

इजरायल (Israel) ने अपनी सबसे ताकतवर एयरफोर्स को जंग के मैदान में उतार दिया है. इजरायल और फिलिस्तीन (Palestine) के बीच चल रही इस जंग में अब तक एक भारतीय महिला (Indian woman) समेत 6 इजरायली और 53 फिलीस्‍तीन नागरिकों की मौत हो चुकी है.

  • Share this:

गाजा. इजरायल (Israel) और फिलिस्तीन (Palestine) के बीच हफ्तों से जारी तनाव ने अब हिंसक रूप ले लिया है. हमास जिसे इजरायल (फिलिस्‍तीन का आतंकी संगठन मानता है) उसने इजरायल पर करीब 3 हजार रॉकेट दागे हैं. इस हमले के बाद इजरायल ने अपनी सबसे ताकतवर एयरफोर्स को जंग के मैदान में उतारा, जिसने फिलीस्‍तीन में भारी तबाही मचाई है. इजरायल और फिलिस्तीन के बीच चल रही इस जंग में अब तक एक भारतीय महिला समेत 6 इजरायली और 53 फिलीस्‍तीन नागरिकों की मौत हो चुकी है.

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच पिछले कई दिनों से जिस तरह के हालात बने हुए हैं उसे देखते हुए कहा जा रहा है कि अभी खतरा और भी ज्‍यादा बढ़ सकता है. इजराइल के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्स ने बुधवार शाम कहा- हमारी सेना गाजा पट्टी और फिलीस्तीन पर अब हमले बंद नहीं करेगी. हमी सेना अब तब तक नहीं रुकेगी जब तक दुश्‍मन को पूरी तरह से शांत नहीं कर दिया जाता. दुश्‍मन के पूरी तरह से खत्‍म होने के बाद ही अमन बहाली पर कोई बात की जाएगी.

इजरायल के रक्षा मंत्री ने जिस तरह का बयान दिया है उससे लगता है कि इजरायल अब लंबे समय तक शांति कायम करने के उपाय करके ही रहेगा. रक्षामंत्री ने अपने बयान में बताया कि हमने हमास के 6 कमांडर मार गिराए हैं और बड़ी संख्‍या में वहां की बिल्डिंग्स, फैक्ट्रीज और सुरंगे जमींदोज की जा चुकी हैं. इजराइली सेना के प्रवक्ता की ओर से कहा गया है कि यह तय मानिए कि हमारे मिलिट्री अफसर और जवान अब किसी सीजफायर के पक्ष में नहीं हैं. उन्‍होंने कहा कि फिलिस्‍तीन ने जिस तरह के हालात पैदा किए हैं उसे देखने के बाद अब हमें लंबे वक्त के लिए हल खोजना ही होगा.

वहीं हमास के नेता हानिया ने कहा है कि अगर इजराइल जंग को बढ़ाना चाहता है तो हम इसके लिए तैयार हैं. इजरायल ने जिस तरह से हमला किया है उसके बाद हम भी रुकने को तैयार नहीं हैं. खास बात है कि साल 2014 के बाद दोनों पक्षों की तरफ से सबसे घातक कार्रवाई हुई हैं. लगातार बढ़ते इस जमीनी संघर्ष को लेकर अंतरराष्ट्रीय समुदाय भी चिंतित नजर आ रहा है. कई देशों ने जारी हिंसा को रोकने के लिए कहा है. इधऱ इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यन्याहू ने कहा है कि हमास ने यरुशल में रॉकेट दागकर 'सीमा पार' की है. साथ ही उन्होंने हमास पर हमले और बढ़ाने की बात कही है.
इसे भी पढ़ें :- भारतीय महिला की मौत पर पूरा देश दुखी, हम उनके परिवार के साथ: इजरायली राजदूत

आपातकाल का ऐलान

इजरायल और फलस्तीन के बीच जारी हिंसा के चलते प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने लॉड शहर में आपातकाल की घोषणा की है. सरकार ने प्रदर्शनों के चलते यह फैसला लिया है. समाचार एजेंसी एएनआई ने द टाइम्स ऑफ इजरायल की रिपोर्ट के हवाले से लिखा कि इस दौरान तीन धार्मिक स्थल और कई दुकानों को आग लगा दी गई है. प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज