• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • चीन में पशुओं का मांस खाने की परंपरा पर रोक, नहीं बिकेगा कुत्तों का मांस

चीन में पशुओं का मांस खाने की परंपरा पर रोक, नहीं बिकेगा कुत्तों का मांस

चीन में कुत्तों का मांस खाने पर बैन लगा दिया गया है. सिर्फ आधिकारिक कारणों से ही कुत्तों को पालने की इजाजत दी जाएगी.

चीन में कुत्तों का मांस खाने पर बैन लगा दिया गया है. सिर्फ आधिकारिक कारणों से ही कुत्तों को पालने की इजाजत दी जाएगी.

चीन ने कुत्ते को पालतू पशु की श्रेणी में डाल दिया है. इससे इन पशुओं का मांस खाने की परंपरा पर रोक लग जाएगी.

  • Share this:
    बीजिंग. दुनिया भर में कोरोना महामारी (Corona virus) को पहुंचाने वाले चीन (China) में कुत्ते के मांस की बिक्री पर बैन लगा दिया गया है. इससे पहले लगातार यह खबरें आती रही हैं कि कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने के बावजूद चीन में कुत्ते के मांस की बिक्री जारी है. मगर अब कहा जा रहा है कि चीन ने कुत्ते को पालतू पशु की श्रेणी में डाल दिया है. इससे इन पशुओं का मांस खाने की परंपरा पर रोक लग जाएगी.

    सिर्फ आधिकारिक कारणों से ही कुत्तों को पालने की अनुमति
    चीन के कृषि मंत्रालय की ओर से यह अहम कदम उठाया गया है. इसके द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि सिर्फ आधिकारिक कारणों से ही कुत्तों को पालने की इजाजत दी जाएगी और इनका व्यापार किया जा सकेगा. गौरतलब है कि चीन में हर साल करीब एक करोड़ कुत्तों को मारकर उसका मांस भोजन के तौर पर खाया जाता रहा है.

    हालांकि यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि करोना वायरस किसी पशु के संपर्क में आने या उसका मांस खाने से फैला. मगर यह कहा जाता रहा है कि चीन के बाजारों में पशुओं के मांस की खुले तौर पर बिक्री की वजह से कोरोना वायरस का प्रसार हुआ. वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) पहले ही यह साफ कर चुका है कि घरों में रहने वाले पालतू पशुओं से कोरोना वायरस के संक्रमण का अब तक कोई प्रमाण नहीं मिल पाया है. मगर इस बीच सोशल मीडिया पर इस तरह की चर्चाओं को हवा मिलती रही है कि चीन में पशुओं का मांस खाने की वजह से यह संक्रमण फैला है. हालांकि अभी तक इन अफवाहों की पुष्टि नहीं हो सकी है.

    पशुओं से इंसानों में संक्रमण फैलने का अभी तक कोई प्रमाण नहीं
    वहीं डब्ल्यूएचओ के डॉ. मरिया वैन कारखोव ने इस संबंध में कहा है कि इंसानों से पालतू पशुओं को कोरोना का संक्रमण होने के कई मामले सामने आए हैं, लेकिन उनसे संक्रमण फैलने का अभी तक कोई प्रमाण नहीं मिला है. गौरतलब है कि बुधवार को दो महीने बाद चीन के वुहान ( Wuhan) शहर में लॉकडाउन हटा लिया गया. इसी शहर से कोरोना वायरस की शुरुआत हुई थी. लॉकडाउन हटते ही सड़कों पर लोगों की भारी भीड़ देखी जा रही थी और यहां मांस और मछली की दुकानें भी खुलने लगी थीं. लोग यहां नॉन वेज खरीदने के लिए पहुंच रहे थे.

    ये भी पढ़ें -  कोरोना वायरस: स्पेन में 26 अप्रैल तक इमरजेंसी जारी रखने का प्रस्ताव

                    कोरोना: पाक की फटेहाली, राष्ट्रपति के मास्क पहनने पर हुआ विवाद, देनी पड़ी सफाई


    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज