होम /न्यूज /दुनिया /खुशखबरी! ट्रंप ने दी H-1B वीजा नियमों में ढील, काम पर वापस लौट सकेंगे भारतीय

खुशखबरी! ट्रंप ने दी H-1B वीजा नियमों में ढील, काम पर वापस लौट सकेंगे भारतीय


अमेरिका में तीन नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव (US President Election) के पहले भारत (INDIA) अमेरिका (America) के बीच रक्षा क्षेत्र में कई अहम समझौते हो सकते हैं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्र्ंप के दो शीर्ष राष्ट्रीय सुरक्षा सहयोगी चीन की बढ़ती वैश्विक ताकत समेत दूसरे मुद्दों पर बातचीत के लिए भारत का दौरा करेंगे. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क एस्पर मंगलवार को रणनीतिक और सुरक्षा वार्ता के लिए अपने भारतीय समकक्षों से मिलेंगे.

अमेरिका में तीन नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव (US President Election) के पहले भारत (INDIA) अमेरिका (America) के बीच रक्षा क्षेत्र में कई अहम समझौते हो सकते हैं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्र्ंप के दो शीर्ष राष्ट्रीय सुरक्षा सहयोगी चीन की बढ़ती वैश्विक ताकत समेत दूसरे मुद्दों पर बातचीत के लिए भारत का दौरा करेंगे. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क एस्पर मंगलवार को रणनीतिक और सुरक्षा वार्ता के लिए अपने भारतीय समकक्षों से मिलेंगे.

H-1B visas News Rules: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने H-1B visas धारकों के लिए वीजा प्रतिबंधों में छूट दी है जिससे ...अधिक पढ़ें

    वाशिंगटन. ट्रंप सरकार (Donald Trump) ने नरमी बरतते हुए H-1B वीजा (H1B Visa) के लिए कुछ नियमों में ढील दी है जिसका सीधा फायदा अमेरिका (US) में काम कर रहे भारतीयों (Indians) को मिलने वाला है. इस ढील के बाद H-1B वीजा धारकों को अमेरिका में फिर से प्रवेश की अनुमति मिल सकेगी. हालांकि ये छूट सिर्फ उन्हें ही मिल रही है जो उन्हीं नौकरियों को वापस जॉइन कर रहे हैं जहां वे वीजा प्रतिबंध की घोषणा से पहले काम कर रहे थे. नई नौकरियों के फिलहाल ये छूट नहीं दी जाएगी.

    अमेरिकी विदेश मंत्रालय के सलाहकार ने कहा कि आश्रितों (जीवनसाथी और बच्चों) को भी प्राथमिक वीजा धारकों के साथ यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी. विभागीय सलाहकार ने कहा कि एक ही नियोक्ता और अपने पुराने ही रोजगार को फिर से शुरु करने वालों को आने की इजाजत दी जाती है. ट्रंप प्रशासन ने तकनीकी विशेषज्ञों, वरिष्ठ-स्तर के प्रबंधकों और अन्य श्रमिकों को भी यात्रा की अनुमति दी है, जो एच -1 बी वीजा रखते हैं और जिनकी यात्रा संयुक्त राज्य अमेरिका की तत्काल और निरंतर आर्थिक हालात को सुविधाजनक बनाने के लिए आवश्यक है. साथ ही बताते चले कि अमेरिकी सरकार ने छूट उन लोगों को दी है जो कोविड-19 महामारी के प्रभावों को कम करने के लिए, या पर्याप्त सार्वजनिक स्वास्थ्य लाभ वाले क्षेत्र में चल रहे चिकित्सा अनुसंधान का संचालन करने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य या स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर, या शोधकर्ता के रूप में काम कर रहे हैं.





    वीजा के लिए नए नियम बना रहा अमेरिका
    गौरतलब है कि कुछ ही दिनों पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रोजगार आधारित कई अमेरिकी वीज़ा प्रोग्राम पर अस्थायी रूप से रोक लगा दी थी. कोरोनावायरस से फैली कोविड-19 महामारी के बीच उनके इस फैसले से अमेरिका में नौकरी करने की आशा रखने वाले हजारों लोगों की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा था. इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घोषण की थी कि वे जल्द ही एच-1बी वीजा के लिए नए नियम बनाने जा रहे हैं. इस बदलाव के बाद प्रतिभाशाली और उच्च कौशल लोगों को अमेरिका में करियर बनाने के लिए बढ़ावा मिलेगा.

    Tags: Donald Trump, Donald Trump administration, Modi government, United States of America, Visas

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें