ट्रंप ने ईरान पर हमले की इजाजत, फिर पलट दिया फैसला

अमेरिका ने भी इस बात को कबूल किया है कि उसके 18 करोड़ डॉलर के जासूसी ड्रोन को ईरान ने मार गिराया. इसके बाद ईरान ने ऐलान किया है कि वह जंग के लिए तैयार है, वह किसी से नहीं डरता.

News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 1:14 PM IST
ट्रंप ने ईरान पर हमले की इजाजत, फिर पलट दिया फैसला
डोनाल्ड ट्रंप
News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 1:14 PM IST
अमेरिका और ईरान के बीच गतिरोध बढ़ता ही जा रहा है. दो दिन पहले ईरान ने एक अमेरिकी ड्रोन को मार गिराया था. इसके बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बदला लेने के लिए अपनी सेना को ईरान पर हमला करने की इजाजत दे दी. लेकिन कुछ देर ने बाद ट्रंप ने अपना फैसला बदला लिया.

क्यों बदला फैसला?

न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक शाम 7 बजे अमेरिकी सेना और ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों ने हमले के लिए पूरा प्लान तैयार कर लिया था. कहां-कहां हमले करने हैं उन ठिकानों को भी मार्क कर लिया गया था. अखबार ने सूत्रों के हवाले से लिखा. ''जहाजें आसमान में तैयार थी नौसैनिक भी अपनी पोजिशन ले चुके थे. लेकिन मिसाइलें नहीं दागी गई थी. इस बीच ट्रंप ने हमला करने का  फैसला वापस ले लिया .'' आखिर क्यों ऐसा किया गया इस बारे में फिलहाल पुख्ता तौर पर कोई जानकारी नहीं मिली है.

कैसे शुरू हुआ विवाद?

13 जून को अमेरिका के दो तेल टैंकरों में आग लगने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था. अमेरिका ने ओमान की खाड़ी में तेल टैंकरों पर हुए हमले के लिए ईरान को दोषी ठहराया था. इससे पहले भी अमेरिका ने पिछले महीने इस रणनीतिक समुद्री इलाके में ऐसे ही हमलों को लेकर इस्लामिक गणराज्य की तरफ उंगली उठाई थी. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ के हवाले से विदेश मंत्रालय ने कहा था कि अमेरिकी सरकार का मानना है कि खाड़ी में हुए हमलों के लिए ईरान जिम्मेदार है. खुफिया जानकारी के मुताबिक, हमला करने में जिन हथियारों का इस्तेमाल किया गया है उसे देख कर पता चलता है कि हमला ईरान से ही किया गया है.

ड्रोन को मार गिराया
अमेरिका ने भी इस बात को कबूल किया है कि उसके 18 करोड़ डॉलर के जासूसी ड्रोन को ईरान ने मार गिराया. इसके बाद ईरान ने ऐलान किया है कि वह जंग के लिए तैयार है, वह किसी से नहीं डरता. ईरान के कमांडर हुसैन सलामी ने कहा कि अमेरिकी ड्रोन हमारी सीमाएं हमारी रेड लाइन था.
Loading...

रूस की धमकी

अमेरिका और ईरान के बीच चल रही तनातनी के बीच दुनिया के कई देश दो खेमों में बंटते दिख रहे हैं. अब अमेरिका और रूस आमने-सामने आ गए हैं. वहीं, सऊदी अरब ने भी ईरान को निशाने पर लिया है.
अमेरिकी दबाव के खिलाफ खड़े हुए रूस ने कहा है कि अगर अमेरिका ने ऐसा कुछ भी किया तो तबाही मचेगी.

परमाणु समझौते को लेकर तनाव
हाल के दिनों में ईरान और अमेरिका के बीच परमाणु समझौते को लेकर तनाव बढ़ा गया है. पिछले साल अमेरिका ने ईरान परमाणु समझौते से खुद को अलग कर लिया था. अमेरिका, ईरान पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव का उल्लंघन का आरोप लगाता रहा है.

ये भी पढ़ें:

योग दिवस पर दिग्विजय ने आडवाणी का नाम लेकर PM पर कसा तंज

अमिताभ बच्चन दिखे इतने बूढ़े की पहचानना हो गया मुश्किल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 21, 2019, 11:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...