अपना शहर चुनें

States

ट्रंप चुनाव 'फ्रॉड' के आरोप पर कायम, कहा- FBI और जस्टिस डिपार्टमेंट बाइडन से मिले हुए हैं

ट्रंप ने FBI और जस्टिस डिपार्टमेंट पर भी लगाया चुनाव धांधली में शामिल होने का आरोप.
ट्रंप ने FBI और जस्टिस डिपार्टमेंट पर भी लगाया चुनाव धांधली में शामिल होने का आरोप.

US Election Update: राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक कदम आगे बढ़ते हुए अब FBI और जस्टिस डिपार्टमेंट पर ही चुनाव धांधली में शामिल होने का गंभीर आरोप लगा दिया है. ट्रंप ने फॉक्स को दिए इंटरव्यू में कहा कि कोई बड़ी बात नहीं कि ये एजेंसियां भी इस फ्रॉड में शामिल हों.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2020, 1:40 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने भले ही व्हाइट हाउस छोड़ने पर सहमति जाता दी हो लेकिन वे चुनाव नतीजों को लेकर अपनी जिद पर अड़े हुए हैं. री-इलेक्शन की उनकी याचिका खारिज होने के बाद पहले टीवी इंटरव्यू में ट्रंप ने कहा- मैं जो बाइडन (Joe Biden) को कभी राष्ट्रपति के तौर पर स्वीकार नहीं करूंगा. मैं बड़े पैमाने पर वोटिंग फ्रॉड के उनके षड्यंत्र को नहीं भूल सकता. ट्रंप ने डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस और फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (FBI) पर भी बाइडन से मिले होने का आरोप लगाया है.

फॉक्स न्यूज को रविवार को दिए इंटरव्यू में ट्रंप ने साफ कहा- आप मेरी राय नहीं बदल सकते. छह महीने में मेरा नजरिया नहीं बदला है. इस चुनाव में धांधली हुई है. यह चुनाव पूरी तरह फर्जी था. अगर ऐसा नहीं होता, तो हम आराम से चुनाव जीत जाते. उन्होंने कहा कि FBI और न्याय विभाग के अधिकारी भी तीन नवंबर को चुनावी गड़बड़ी में शामिल हो सकते हैं. मेल इन बैलेट एक आपदा है. बता दें कि ट्रंप इन आरोपों से जुड़ा कोई सबूत अभी तक नहीं दे सके हैं. उनकी लीगल टीम भी अब तक चुनाव में धांधली को लेकर कोई ठोस सबूत नहीं जुटा सकी है.

हमें सबूत पेश नहीं करने दिए जा रहे
देशभर की अदालतों में ट्रंप की तरफ से दाखिल केस एक के बाद खारिज हो रहे हैं. पेन्सिलवेनिया के सुप्रीम कोर्ट ने भी शनिवार को ट्रंप के समर्थकों की तरफ से दायर लॉ सूट खारिज कर दिया. इसमें पेन्सिवेनिया में बाइडेन की जीत को चुनौती दी गई थी. इस पर ट्रंप ने कहा- हम सबूत पेश करने की कोशिश करते हैं, लेकिन जज हमें इसकी इजाजत नहीं देते. हम फिर भी कोशिश कर रहे हैं. हमारे पास ढेर सारे सबूत हैं. अमेरिका में डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस और फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (FBI) का प्रमुख राष्ट्रपति ही होता है. इसके बावजूद ट्रंप ने दोनों विभागों पर सहयोग न करने का आरोप लगाया. ट्रंप ने कहा- वे सीन से ही गायब हैं. सुप्रीम कोर्ट को हमारी बात सुननी चाहिए थी. अगर सुप्रीम कोर्ट ऐसे मामले में दखल नहीं दे सकता, तो उसके होने का मतलब क्या है?





मृतकों ने भी किया मतदान
ट्रंप ने आगे कहा कि लोगों ने लाखों की संख्या में मेल इन बैलेट को भेजा. आप ऐसे लोगों को जरूर जानते होंगे जिन्हें दो, तीन या चार मेल इन बैलेट मिले हैं. मैं भी ऐसे लोगों को जानता हूं. वे कहते हैं कि मुझे चार बैलेट मिले हैं. उन्हें एक अपने स्थाई घर में भी बैलेट मिला. इससे भी बुरी बात यह है कि मृत लोग मतपत्र प्राप्त करने के लिए आवेदन कर रहे थे. बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो जो मौत के बाद भी चुनाव में मतदान किया है. ट्रंप ने थैंक्सगिविंग डे पर अपने भाषण में कहा था कि अगर बाइडन को विजेता घोषित किया जाता है तो यह इलेक्टोरल कॉलेज की एक बड़ी गलती होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज