ट्रंप ने प्रदूषण के लिए भारत और चीन को ठहराया जिम्मेदार, कहा- अमेरिका की हवा सबसे साफ

News18Hindi
Updated: June 6, 2019, 8:23 AM IST
ट्रंप ने प्रदूषण के लिए भारत और चीन को ठहराया जिम्मेदार, कहा- अमेरिका की हवा सबसे साफ
डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

ट्रंप ने कहा कि प्रिंस चार्ल्स ने उनके अंदर जलवायु परिवतर्न से लड़ने की भावना जगाई थी और वह भी एक ऐसी दुनिया चाहते हैं जो आने वाली पीढ़ियों के लिए अच्छी हो.

  • Share this:
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत, चीन और रूस पर निशाना साधते हुए कहा है कि इन तीनों देशों में प्रदूषण और स्वच्छता की भावना नहीं है. उनका ये बयान विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के उस डेटा के बाद आया है जिसमें कहा गया है कि अमेरिका की तुलना में इन तीनों देशों में औसत वायु प्रदूषण का स्तर बहुत अधिक है, जबकि जब कार्बन उत्सर्जन के मामले में अमेरिका शीर्ष देशों में से एक है.

ट्रंप ने बुधवार को कहा, "चीन, भारत, रूस और कई अन्य देशों की हवा साफ नहीं है, प्रदूषण और स्वच्छता के लिहाज से बहुत अच्छा पानी नहीं है. वे अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाते हैं."

ट्रंप ने कहा कि प्रिंस चार्ल्स ने उनके अंदर जलवायु परिवतर्न से लड़ने की भावना जगाई थी और वह भी एक ऐसी दुनिया चाहते हैं जो आने वाली पीढ़ियों के लिए अच्छी हो.

गौरतलब है कि अमेरिका राष्ट्रपति ने पेरिस जलवायु करार से अपने देश को बाहर निकाल लिया है.  हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अपनी तीन दिवसीय राजकीय यात्रा के दौरान सोमवार को जब उन्होंने बकिंघम पैलेस में प्रिंस चार्ल्स के साथ चाय पर मुलाकात की तो वे पर्यावरण के लिए उनकी प्रतिबद्धता से प्रभावित थे.

ट्रंप ने बुधवार को प्रसारित एक इंटरव्यू में कहा कि चार्ल्स ने इस दौरान अधिकतर जलवायु को लेकर ही बातचीत की. ट्रंप ने कहा, "वे एक ऐसी दुनिया चाहते हैं जो आने वाली पीढ़ियों के लिए अच्छी हो, मैं भी यहीं चाहता हूं."

रोहडियम समूह द्वारा जनवरी में जारी एक व्यापक रिपोर्ट में पाया गया कि 2018 में अमेरिका का कार्बन उत्सर्जन 3.4% बढ़ गया है. यह पिछले आठ सालों में सबसे अधिक वृद्धि थी.

ये भी पढ़ें: महारानी एलिजाबेथ को दिया गिफ्ट भूले अमेरिकी राष्ट्रपति, मेलिना ट्रंप ने दिलाया याद
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 6, 2019, 8:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...