US में बिगड़ सकते हैं हालात! ट्रंप नहीं मान रहे हार तो बाइडन शपथ ग्रहण के लिए तैयार

डोनाल्ड ट्रंप ने हार मानने से इनकार किया.
डोनाल्ड ट्रंप ने हार मानने से इनकार किया.

US Election Result: अमेरिका राष्ट्रपति चुनावों के आधिकारिक नतीजे भले ही घोषित होने बाकी हैं लेकिन जो बाइडन ने जीत हासिल कर ली है. हालांकि डोनाल्ड ट्रंप ने फिलहाल अपनी हार मानने से स्पष्ट इंकार कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 19, 2020, 9:49 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने बुधवार को एक बार फिर दावा किया कि उन्होंने तीन नवंबर को हुए चुनाव (US Election Result) में जीत दर्ज की है. ट्रंप ने इसके साथ ही पूरे अमेरिका में चुनाव में धांधली के आरोपों को भी दोहराया. ट्रंप ने बड़े अक्षरों में ट्वीट किया, 'मैंने चुनाव में जीत दर्ज की. पूरे देश में चुनाव में धोखाधड़ी हुई.' उधर ट्रंप की ओर से सहयोग नहीं मिलने के बाद भी नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) के शपथ ग्रहण की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं. जानकारों के मुताबिक अगर स्थिति ऐसी ही बनी रही तो अमेरिका में राजनीतिक संकट पैदा हो सकता है.

इससे पहले ट्रंप ने ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ का एक ट्वीट अमेरिका के मानचित्र के साथ टैग किया जिसमें कहा गया है कि उन्हें पिछले चुनाव के मुकाबले 1.01 करोड़ अधिक मत मिले हैं जिनमें हिस्पैनिक बहुल इलाके भी शामिल हैं. उल्लेखनीय है कि गत सप्ताह मुख्य धारा के मीडिया ने जो बाइडल को चुनाव का विजेता घोषित कर दिया था. अमेरिका का राष्ट्रपति निर्वाचित होने के लिए 538 सदस्यीय इलेक्ट्रोरल कालेज में 270 इलेक्ट्रोरल वोट की जरूरत होती है. राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार और पूर्व उप राष्ट्रपति जो बाइडन 270 से अधिक इलेक्टोरल वोट हासिल कर चुके हैं. हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के औपचारिक नतीजे अब तक घोषित नहीं किए गए हैं.





बाइडन के शपथ ग्रहण की तैयारियां जारी
अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से सहयोग नहीं मिलने के बाद भी नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के शपथ ग्रहण की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं. अमेरिका में नवनिर्वाचित राष्ट्रपति को आधिकारिक रूप से खुफिया विभाग के अधिकारियों से रूबरू कराया जाता है , लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो रहा है. ऐसे में बाइडन ने मंगलवार को खुफिया, रक्षा और राजनयिक विशेषज्ञों के साथ डिजिटल माध्यम से बैठक की. इनमें से कोई भी अधिकारी फिलहाल अमेरिकी सरकार से जुड़ा हुआ नहीं हैं. ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि बाइडन को देश के सामने मौजूद खतरों के बारे में ताजातरीन जानकारियां दी जा रही हैं या नहीं.
वहीं नवविर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को मंगलवार को आधिकारिक रूप से जानकारियां दी गईं. उन्होंने सीनेट की खुफिया मामलों की कमेटी के एक सदस्य के साथ बैठक की. अमेरिका का मौजूदा प्रशासन कोरोना वायरस हालात पर भी बाइडन को अपनी टीम के साथ चर्चा नहीं करने दे रहा. ऐसे में बाइडन के प्रतिनिधियों ने इस सप्ताह फार्मा कंपनियों से प्रत्यक्ष रूप से मुलाकात करने की योजना बनाई है. ट्रंप की ओर से शांतिपूर्व सत्ता सौंपे जाने के संकेत नहीं मिलने के चलते बाइडन और उनकी टीम जनवरी में सत्ता मिलने के तुरंत बाद उठाए जाने वाले कदमों को लेकर तैयारियों में जुटी है.

सत्ता हस्तांतरण अनुशासित तरीके से और समय पर होगा
उधर अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के शीर्ष नेता एवं सीनेटर मिच मैक्कोनेल ने कहा है कि डोनाल्ड ट्रंप से जो बाइडन प्रशासन को सत्ता हस्तांतरण 'अनुशासित' तरीके से और 'सही वक्त' पर होगा. पिछले सप्ताह मुख्यधारा के मीडिया ने राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडन को विजेता घोषित किया, लेकिन ट्रंप ने इसे मानने से इनकार करते हुए, अपनी जीत का दावा किया था. सीनेट में बहुमत के नेता मैक्कोलेन ने कहा कि अगले प्रशासन को शांतिपूर्ण तरीके से सत्ता हस्तांतरण होगा.



इस संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कैपिटोल हिल में संवाददाताओं से कहा, 'हम इस प्रशासन से अगले प्रशासन को सत्ता हस्तांतरण अनुशासित तरीके से करने जा रहे हैं.' उन्होंने कहा, ‘‘हम इस बारे में जो भी कहें स्पष्ट रूप से सब अप्रासंगिक है. यह सब सही वक्त पर होगा और हम 20 जनवरी को नए प्रशासन को शपथ दिलाएंगे.' उन्होंने कहा कि सभी राष्ट्रपति चुनाव में देश इस प्रक्रिया से गुजरता है और विवादों से निपटने का एक तरीका है और उसे अदालत कहते हैं. उन्होंने कहा, 'जो भी विवाद हैं उन्हें विभिन्न राज्यों की अदालतें देख रही हैं.' गौरतलब है कि रिपब्लिकन पार्टी के अनेक सांसद प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से स्वीकार कर चुके हैं कि बाइडन ने जीत हासिल की है. वॉल स्ट्रीट जनरल की एक रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार शाम को सीनेट में एक मतदान के दौरान कई रिपब्लिकन सीनेटरों ने नव-निर्वाचित उप राष्ट्रपति कमला हैरिस को बधाई भी दी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज